ग्वार व ग्वार गम की कीमतों को बढ़ी हुई कच्चे तेल की कीमतें मजबूती देगी

ग्वार के हिसाब से यह एक फंडामेंटली बहुत ही मजबूत सप्ताह है । अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल की कीमतें 70 डालर प्रति बैरल से ऊपर चल रही है । अमेरिका में अभी 175 तेल की रिग तेल निकालने के उद्योग में सक्रिय है । अभी अमेरिका में कच्चे तेल व गैस उत्पादन को मिला के कुल रिगों संख्या 947 है । अभी की परिस्थितियों के अनुसार ब्रेंट अगले सप्ताह कच्चे तेल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में 70 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर  मजबूती के साथ बनी  रहेगी ।

कच्चे तेल की कीमतों में स्थिरता भारतीय बाज़ारों में ग्वारग्वार गम की कीमतों को मजबूती देगी । अभी भारतीय बाजारों में ग्वारग्वार गम की कीमतें स्थिरता के साथ ऊपर की और बढ़ रही है। आज वायदा बाज़ार तीन दिनों बाद खुला है । NCDEX कीमतें पता लगाने का महत्वपूर्ण स्रोत है। पिछले तीन दिनों में स्थानीय बाज़ारों में ग्वारग्वार गम का व्यापार ऊँचे भावों में हो रहा है। जानकारी के अनुसार छोटे बाज़ारों में ग्वार का व्यापार रुपये 4500 प्रति क्विंटल के भावों से ज्यादा पर हो रहा है । तथा मुख्य बाज़ारों में ग्वार का व्यापार 4700 रुपये प्रति क्विंटल से ऊपर हो रहा है । ग्वार गम का व्यापार 10,200 प्रति क्विटल से ज्यादा पर हो रहा है । ये भी पता चला है की ग्वार गम की मिलों के मालिक ग्वार बढ़ चढ़ कर खरीद रहे है 
     


जानकारों के अनुसार वायदा बाज़ार NCDEX में फ़रवरी महीने के सौदे से पहले ग्वार के भाव 5000 रुपये प्रति क्विंटल व ग्वार गम के भाव 11,000 रुपये प्रति क्विंटल से पार कर जायेगा । अभी स्थानीय बाज़ारों में ग्वारग्वार गम बहुत मजबूत स्थिति में है ।  तेल के नये कुएं खुदने के साथ अमेरिका में ग्वार गम की मांग बढ़ेगी । ओपेक देश अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल के भाव 100 डॉलर प्रति बैरल से ज्यादा रखना चाहते है । ओपेक देश अपने कच्चे तेल का उत्पादन घटा रहे है ऊँची तेल की कीमतों से अमेरिका व अन्य देशों में टेक्स संग्रहण  में बढ़ोतरी होगी । 
  
guar, guar gum, ग्वार , ग्वार गम, ग्वार समाचार , ग्वार निर्यात guar gum news, guar gum export, guar gum price, guar price, guar ncdex price, ग्वार भाव, guar gum cultivation in India, guar gum cultivation consultancy
ग्वार की  बड़े स्तर पर व्यवसायिक खेती 

जानकारी के अनुसार स्थानीय बाज़ारों में ग्वार की आवक घाट गयी है । ग्वार की आवक 20
,000 बोरी प्रति दिन से नीचे गिर गयी है ।  ये और भी गिरने की संभावना है । ज्यादा भावों की अपेक्षा में किसान व छोटे व्यापारी माल को अभी रोके रखेंगे । अभी ग्वार की आवक कमजोर है । अभी की परिस्थितियां में समय सट्टेबाजों के लिए उपयुक्त है । सट्टेबाज़ ग्वार को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे । नया माल बाज़ार में अक्तूबर 2018 के बाद आएगा ।  अचानक आयी तेज़ी बाज़ार में संदिग्ध व अस्थिर होगी ।   



अभी का समय ग्वार गम के नए व्यापार के लिए बहुत महत्वपूर्ण है । क्योंकि तेल खुदाई करने वाली कंपनी अभी ग्वार गम के नए वर्ष के सौदों के लिए सप्लायर देखेगी । सिर्फ कच्चे तेल व गैस उद्योग ही नहीं बाकी ग्वार गम को काम में लेने वाले उद्योग जैसे दवा, फ़ूड, टेक्सटाइल व अन्य उद्योग भी नए सेल के लिए सप्लायर देखेंगे ।

No comments:

Post a Comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS