COPY PASTE

Monday, 29 April 2019

ग्वार गम पाउडर के निर्यात में इस वर्ष जनवरी तक 29% की कमी

APEDA द्वारा जारी कृषि उत्पादों के निर्यात के आंकड़ों के अनुसार 4,65,705 मेट्रिक टन ग्वार उत्पादों का निर्यात हुआ है l जो की पिछले वर्ष से 15,977 मेट्रिक टन ज्यादा है l पिछले वर्ष फ़रवरी तक ग्वार उत्पादों का निर्यात 4,49,728 मीट्रिक टन हुआ था l ग्वार के कुल उत्पाद के निर्यात के हिसाब से यह एक वृद्धि है l लेकिन जनवरी तक आंकड़ों के विस्तार से व गहराई से आंकलन करते है ग्वार के मुख्य उत्पाद ( ग्वार गम ) के निर्यात में भारी गिरावट दर्ज की गयी है l



अप्रैल-18 से जनवारी-19 तक ग्वार कोरमा के निर्यात में 5020 मीट्रिक टन की गिरावट दर्ज की गयी है इस वर्ष ग्वार कोरमा का निर्यात 1,22,417 मेटरिक टन हुआ है पिछले वर्ष 1,27,437 मीट्रिक टन ग्वार कोरमा का निर्यात था l अप्रैल-18 से जनवारी-19 तक ग्वार गम पाउडर के निर्यात में 94,391 मीट्रिक टन की गिरावट दर्ज की गयी है l इस वर्ष ग्वार गम पाउडर का निर्यात 2,27,532 मेटरिक टन हुआ है पिछले वर्ष 3,21,923 मीट्रिक टन ग्वार गम पाउडर का निर्यात हुआ था l
ग्वार गम पाउडर के निर्यात में  इस वर्ष जनवरी तक 29% की कमीl Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

हालांकि अप्रैल-18 से जनवारी-19 तक ग्वार स्प्लिट के निर्यात में 21,127 मीट्रिक टन की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है l इस वर्ष ग्वार स्प्लिट का निर्यात 65,867 मीट्रिक टन हुआ है पिछले वर्ष 44,740 मीट्रिक टन ग्वार गम स्प्लिट का निर्यात हुआ था l ग्वार गम पाउडर के निर्यात में गिरावट एक चिंता का विषय है l हालांकि ये विस्तृत आंकड़े सिर्फ जनवरी तक के ही है l अभी दो महिनें के विस्तृत आंकड़े आने बाकि है l जनवरी तक ग्वार उत्पाद में लगभग 80,000 मीट्रिक टन की गिरावट होना एक अच्छा संकेत नहीं है l 



लगभग 73,200 मीट्रिक टन की ग्वार गम में गिरावट का अर्थ है लगभग 2,10,000 मीट्रिक टन या 21,00,000 बोरी( 100 किलो ) ग्वार की खपत कम होना l ग्वार कोरमा ग्वार गम प्रोसेसिंग का उप उत्पाद है l उसका निर्यात बढ़ने से गवार की खपात में कोई विशेष अंतर नहीं पड़ेगा l 21 लाख बोरी की खपत कम होने से ग्वार की मांग में काफी कमी आ सकती है l हालांकि इस वर्ष ग्वार के उत्पादन के काफी कमी दर्ज की गयी थी l 

इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 20 मई के सौदे के लिए 4362 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 30 अप्रेल के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4368 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4342 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 20 मई के सौदे के लिए 8755 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8753 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4400 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 9000 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l

पिछले सप्ताह ग्वार के भावों में काफी गिरावट दर्ज की गयी थी l गिरावट के बाद भावों में कोई विशेष बढ़ोतरी नजरी नहीं आयी है l साथ में मानसून के अच्छे पूर्वानुमान की घोषणा के कारण ग्वार के भावों पर दबाब आगया l बाकी इस मौषम में बीजाई से पहेले ग्वार के भावों में गिरावट नहीं होनी चाहिए l गवार की बीजाई के दौरान ग्वार की खपत बीज के रूप में बढ़ेगी l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

Friday, 26 April 2019

जनवरी तक ग्वारगम पाउडर के निर्यात में 29% की कमी

जनवरी तक ग्वारगम पाउडर के निर्यात में 29% की कमी   इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा YOUTUBE विडियो देखे l 


ग्वार व ग्वार गम पर  ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

Saturday, 20 April 2019

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव क्या सिर्फ मानसून के पूर्वानुमान से निर्धारित होंगे l

इस सप्ताह भारतीय मौषम विभाग ने मानसून के आगमन से सम्बंधित पूर्वानुमान जारी किया l विदेशी मौषम एजेंसियों के विपरीत अल नीनो की संभावना को बहुत कम बताया है l प्रेस कांग्रेस के बाद वायदा बाज़ार में ग्वार के भावों में भारी गिरावट देखी गयी l किसान व व्यापारी वर्ग ग्वार के भावों में और ज्यादा गिरवाट की आशंका से चिंतित है l ग्वार के भावो को प्रभावित करने वाल मानसून अकेला कारक नहीं है l 




वैश्विक बाज़ार में कच्चे तेल की कीमतों में सुधार लगातार जारी है l कच्चा तेल ग्वार की कीमतों को प्रबह्वित करने वाल सबसे बड़ा कारक है l कच्चे तेल की कीमतों में सुधार होने से तेल की खुदाई की नयी गतिविधिया बढ़ेगी व ग्वार की मांग में भी बढ़ोतरी होगी l कच्चे तेल की कीमते पिछले 5-6 महीने के उच्चतम स्तर पर है l अभी कच्चे तेल के भाव 71 डॉलर प्रति बेरल से ऊपर चल रहे है l कच्चे तेल की बढाती कीमतों का फायदा अमेरिका की शैल गैस व तेल उत्पादन कंपनी को हो रहा है l 

क्या ग्वार व ग्वार गम  के भाव क्या सिर्फ मानसून के पूर्वानुमान से निर्धारित होंगे l Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

बेकर हुज के तेल के खुदाई के रिग काउंट के आंकड़े भी ग्वार के भावों के लिए सकारात्मक है 12 अप्रैल 2019 तक अमेरिका में 1022 आयल रिग सक्रिय है जो की पिछले वर्ष से 14 ज्यादा है l कच्चे तेल की कीमते बढ़ने से ग्वार व दुसरे ड्रिलिंग उत्पाद की मांग और बढ़ेगी l ग्वार गम की लग भाग 50-60% खपत कच्चे तेल के कुए की खुदाई उद्योग में होती है l 

मानसून के आम्भिक अनुमान से घबराने की जरूर अभी नहीं है l फसल का उत्पादन हो कर जब तक माल किसान अपने घर या गौदाम में ना डाल दे तब तक अनुमान को महज एक अनुमान ले कर ही चलाना चाहिए l अगले 2-3 महीने में 30,000-35,000 MT ग्वार की जरुरत ग्वार के बीज के रूप में होगी l किसान व व्यापारियों को 3-4 महीने घबराने की जरुरत नहीं है l अगले 6-7 महिने तक ग्वार की आवक बाज़ार में बहुत सिमित या नगण्य रहेगी l 




कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनी एनजीओ के माध्यम से समाज सेवा के नाम पर किसानों के बीच में बाजार की जानकारी इकठ्ठी कर रही है l इन जानकारी के सहारे वो किसानो से सस्ता ग्वार व व्यापारियों से सस्ती ग्वार गम खरीद रही है l बाज़ार की जानकारी व उत्पादन के आंकड़े इकठ्ठा करने के बाद ये कंपनी अपने हिसाब से बाजार को चलाती है l किसानो व व्यापारियों को ऐसी बहुराष्ट्रीय कंपनी, एनजीओ व समाजसेवा से दूर रहने की जरुरत है l 

इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 20 मई के सौदे के लिए 4320 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 30 अप्रेल के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4315 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4385 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 20 मई के सौदे के लिए 8700 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8733 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4500 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 9000 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l


Friday, 19 April 2019

क्या ग्वार के भाव केवल मानसून के पूर्वानुमान पर टिके है ??

क्या ग्वार के भाव केवल मानसून के पूर्वानुमान पर टिके है ?  इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा YOUTUBE विडियो देखे l 


ग्वार व ग्वार गम पर  ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

Tuesday, 16 April 2019

ग्वार के निर्यात में अप्रेल 2018 से फ़रवरी 2019 तक 14.81 % की बढ़ोतरी

एपेडा द्वारा जारी कृषि उत्पाद के निर्यात के आंकड़ो के अनुसार इस वर्ष फ़रवरी-2019 तक ग्वार के निर्यात में 14.81 % की बढोतरी हुयी है l इस वर्ष अप्रैल-18 से फ़रवरी-19 तक 4263 करोड़ रूपए का ग्वार उत्पाद निर्यात हुआ है पिछले वर्ष इसी समय के दौरान 3713 करोड़ रूपए का ग्वार उत्पाद निर्यात हुआ था l फ़रवरी तक इस वर्ष पिछले वर्ष के मुकाबले 550 करोड़ रुपये ज्यादा का ग्वार उत्पाद निर्यात हुआ है l 




अभी तक फ़रवरी महीने के ही आंकड़े जारी हुए है मार्च महिने के आंकड़े आने अभी बाकी है l पिछले वर्ष के ग्वार की निर्यात की सही स्थिति का पात तो मार्च महीने के आंकड़ो के जारी होने के बाद ही पात चलेगा l मोटे तौर पर ग्वार के निर्यात में प्रति वर्ष बढ़ोतरी हो रही है l बेकर हुज के रिग काउंट के आंकड़ो के अनुसार अमेरिका में सक्रिय तेल की खुदाई की आयल रिग की संख्या में बढोतरी हो रही है l 5 अप्रैल तक जारी आंकड़ो एक अनुसार अमेरिका में 1025 आयल रिग सक्रिय है l जो की पिछले वर्ष इसी समय की गिनती से से 22 ज्यादा है तथा 29 मार्च 2019 को आयल रिग की पिछली गिनती से 19 ज्यादा है l 

ग्वार के निर्यात में अप्रेल 2018 से फ़रवरी 2019 तक 14.81 % की बढ़ोतरी     Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

ग्वार एक निर्यात आधारित कृषि उत्पाद है लेकिन निर्यात के आंकड़ो के सिवाय यह डॉलर रूपए के कीमत का अनुपात, स्थानीय मांग, बाज़ार में उपज की आवक, वायद बाज़ार के भाव आदि कारको पर भी निर्भर करता है, भारतीय मौषम विभाग के अनुसार अलनीनो का प्रभाव धीर धीर कम हो रहा है l इस वर्ष फिर से एक अच्छे मानसून के आसार बन रहे है l बाकी मौषम विभाग मौषम के बारे में अपना पूर्वानुमान चुनाव आयोग व सरकार की अनुमति के बाद अगले सप्ताह में जारी करेगा l 




पिछले सप्ताह एलनीनो के प्रभाव व बढे हुए निर्यात के आकड़ो के कारन ग्वार के भावो में तेज़ी देखि गयी थी इस सप्ताह भारतीय मौषम विभाग के पूर्वानुमान का असर आज ग्वार की कीमतों पर भी पड़ा है बाज़ार में ग्वार व ग्वार गम की कीमतों में गिरावट दर्ज की गयी है l NCDEX पर 20 मई के सौदे के लिए ग्वार के भाव 33.5 रूपए की गिरावट के साथ 4488 रुपये प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 87 रूपए की गिरावट के साथ 9116 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l 

बाज़ार के जानकारों के अनुसार अप्रैल महिने में ग्वार के कारोबार में सुस्ती रहेगी l बाज़ार में ग्वार की आवक नगण्य या बहुत ही कम है क्योंकि किसान व व्यापारी रबी की उपज की बिक्री व खरीदी में व्यस्त है l निर्यात के नए आर्डर अभी नहीं मिलेगे क्योंकि नए वितवर्ष के आरम्भ में व्यापार में सुस्ती रहती है l भारत में लोकसभा चुनावों के कारण भारतीय बाज़ार में व्यापारिक गतिविधियाँ भी स्थिल है l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l


ग्वार की ज्यादा उपज देने वाली नयी संसोधित किस्म “सुपर X-7”

चैनल के सभी दर्शकों को नमस्कार, ग्वार के एक्सक्लूसिव युट्यूब चैनल पर सभी का स्वागत है l इस चैनल के माध्यम से आप सभी तक ग्वार से सम्बंधित ताज़ा जानकारी साझा करते रहेंगे l आशा है की आपके सहयोग व इनपुट से यह चेनल सभी के लिए अत्यंत लाभकारी साबित होगा l चैनल को ज्याद से ज्यादा संख्या शेयर \ व लाईक करे l आप चैनल को सब्सक्राइब जरुर कर ले ताकि ग्वार पर ताज़ा जानकारी के नए विडियो आपको समय पर मिलते रहे l 

आज बाज़ार के अलावा ग्वार पर दूसरी जानकारी देता हूँ उसके बाद ग्वार के बाज़ार के बारे में विचार विमर्ष करेंगे l लगभग दो महीने बाद ग्वार की नयी बीजाई शुरू होगी l किसी भी फसल के लिए तीन महत्वपूर्ण कारक होना बहुत जरुरी है जमीन पानी व बीज l ग्वार उत्पादन क्षेत्र की जमीन में कोई विशेष सुधार नहीं हो सकता, पानी की निर्भरता बारिश व नहर पर है उसमे भी कोई मानव पोषित विशेष बदलाव नहीं हो सकता l तीसरा महत्वपूर्ण कारक है बीज l बीज में समय समय पर संशोधन व विकास होते रहते है l 

ग्वार की ज्यादा उपज देने वाली नयी संसोधित किस्म “सुपर X-7”   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

आज आपसे ग्वार की नयी किस्म सुपर X-7 के बारे में चर्चा करते है l यह एक संसोधित किस्म है l इस किस्म के पौधे की ऊँचाई सामन्यतया 80-100 सेमी के करीब होती है l यह किस्म सिंचित व असिंचित दोनों क्षेत्रो के लिय उपयुक्त है l खेतो में प्रदर्शन में पाया गया है की यह किस्म 85-100 दिन में पक कर तैयार हो जाती है l ग्वार की फसल में लगने वाले रोग बक्तरिअल ब्लाइट, अल्टरनेरिया ब्लाइट तथा जड़ गलन के लिए अत्यधिक सहनशील है l दानों का रंग मध्यम भूरे रंग का होता है l 

इस किस्म का उत्पादन खेत पर प्रदर्शन में 18-22 क्विटल प्रति हेक्टेयर के बीच आया है l यह किस्म देर से बुवाई व जल्दी बुवाई दोनों परिस्थितियों के लिए उपयुक्त है l पौधे में फलियों की संख्या ज्यदा व फलियों में दानो की संख्या ज्यादा होती है l सबसे विशेष बात यह एक साथ पकाने वाली फसल है l चुकी बुवाई का समय नजदीक है तो किसान अपने पास के डीलर से ये वैरायटी अभी से अडवांस बुकिंग करवाले l यह किस्म 2 किलो की पैकिंग में बिजाई के समय बाज़ार में उपलब्ध होगी l 

अगर बीज मिलने में दिकत हो रही है तो श्री गंगानगर नयी धान मंडी में शिव चौक के पास मनोजकुमार मुकेशकुमार नाम से खाद बीज की बहुत बड़ी डिस्ट्रीब्यूटरशिप है, इस दुकान पर ग्वार के बीज की सुपर X-7 किस्म मिल जाएगी l मोबाइल नंबर विडियो जानकारी में दिया हुआ है कमेंट सेक्शन में भी नंबर डाले हुए है l इनसे बात कर के इस किस्म के अपने बीज की एडवांस बुकिंग करवाले l ग्वार के इस किस्म के बीज को बाज़ार में नेचरलेंड सीड नाम की कंपनी बाज़ार में उपलब्ध करवा रही है l 

यह कंपनी बहुत बड़ी है l बीज के अलावा इस कम्पनी और भी बहुत कारोबार है तो हो सकता है किसानो व डीलर को सीधा जबाब न दे पाए फिर भी कंपनी के मार्केटिंग प्रबंधक श्री सुनील जी निठारवाल के नंबर निचे दिए हुए है l उनसे बात कर सकते है l बाकि आप कमेंट कर के मेरे से इसके बारे में पूछ सकते है l सुपर X-7 के अलावा यह कंपनी दूसरी फसलो व ग्वार की दूसरी वैरायटी या किस्म जैसे सुपर तुलछी, HG 2-20, HG-563, HG-365, RGC-936 आदि के बीज भी किसानों को उपलब्ध करवाती है l 

जमीन, पानी व बीज के अलावा किसान को ग्वार की खेती के लिए बेहतर सस्य क्रियाओं व बीजोपचार पर भी ध्यान देना चाहिए l रबी की फसल की कटाई के बाद गर्मी में खेत की गहरी जुताई कीट व रोग रोक थाम में बहुत ही अच्छे परिणाम देती है l किसान भाइयों को गर्मी में खेत की एक बार गहरी जुताई मिटटी पलटने वाले प्लोव हल से अवश्य कर देनी चाहिए l 

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l


Friday, 12 April 2019

ग्वार के निर्यात में फ़रवरी 2019 तक 14.81 % की बढ़ोतरी

ग्वार के निर्यात में फ़रवरी 2019 तक 14.81 % की बढ़ोतरी l   इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा YOUTUBE विडियो देखे l 



ग्वार व ग्वार गम पर  ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

“सुपर X-7” ग्वार की ज्यादा उपज देने वाली नयी संसोधित किस्म

 “सुपर X-7” ग्वार की ज्यादा उपज देने वाली नयी संसोधित किस्म l   इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा YOUTUBE विडियो देखे l 


ग्वार व ग्वार गम पर  ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

Tuesday, 2 April 2019

ग्वार व ग्वार गम के भावों की चाल नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगी ?

 ग्वार व ग्वार गम के भावों की चाल नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगी  ? ? इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए पूरा YOUTUBE विडियो देखे l 





ग्वार व ग्वार गम पर  ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l

ग्वार व ग्वार गम के भावों की का भविष्य नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगा ?

आज से नया वितवर्ष शुरू हो गया है व्यापार के हिसाब से यह समय बहुत ही महतवपूर्ण है l क्योंकि व्यापारिक प्रतिष्ठान आज से नया काम, नया निवेश या नये सौदे शुरू करते है l नए वितवर्ष में ग्वार की चाल कैसी रहेगी l आज इसके बारे में चर्चा करते है l ग्वार की कीमतों को प्रभावित करने वाले कई प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष कारण होते है l जैसे की फसल का उत्पादन, फसल की मांग, निर्यात के आंकड़े, NCDEX पर व्यापर का आकर या वॉल्यूम, क्रूड आयल के भाव, डॉलर की कीमतें, मानसून का आगमन, और भी बहुत सारे कारण है l 




मानसून के आगमन के अनुमान को ले कर अलग अलग मत सामने आ रहे है l पहले तो विदेशी व भारतीय मौषम एजेंसी एक ही शुर में चल रही थी l लेकिन अब भारतीय मौषम एजेंसीयों ने नया अनुमान जारी करके अच्छे मौषम का अनुमान बताया है l पिछले सप्ताह के अंत में अच्छे मौषम की खबर का असर ग्वार की कीमतों पर भी पड़ा l लेकिन बाज़ार के जानकारों के अनुसार यह मात्र एक अनुमान है, ग्वार उत्पादन क्षेत्र में ख़राब मौषम के अनुमान में अच्छा मौषम रहने की सम्भावन कम है l लेकिन अच्छे मौषम के अनुमान में ग्वार उत्पादन क्षेत्र में खराब मौषम रह सकता है l 

ग्वार व ग्वार गम के भावों की का भविष्य नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगा ?  Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

नया वितवर्ष शुरू हुआ है तो व्यापार में तेज़ी आने की उम्मीद है l आने वाले दिनों में ग्वार के व्यापर में नया निवेश हो सकता है l साथ में ग्वार की मांग में भी बढ़ोतरी होगी l अन्तराष्ट्रीय स्तर पर तेल की खुदाई में लगी कंपनियों के मुनाफे में तेल के भाव बढ़ने से बढ़ोतरी होगी l ये कम्पनीज अपने मुनाफे को वापस ड्रिलिंग की गतिविधियों में लगाएगी l बढ़ते मुनाफे के साथ नए निवेश के आने की उम्मीद भी है l 




भारतीय ग्वार कंपनियां अभी भी पारम्परिक तरीके से ग्वार उत्पादों के निर्यात का काम कर रही है l ये कंपनी बिना किसी विशेष वैल्यू एडिशन के ही ग्वार उत्पाद निर्यात कर देती है l सरकार व ग्वार गम उद्योग वैल्यू एडिशन गतिविधि की अनदेखी कर रहे है l कुछ विदेशी कंपनी भारत के एनजीओ के साथ मिल कर किसानों के बीच CSR या समाज सेवा के नाम पर प्रोजेक्ट चलाती है, तथा ग्वार से सम्बंधित जमीनी डाटा इकठ्ठा करती रहती है l इस डाटा का उपयोग वो भारतीय ग्वार गम उद्योग व ग्वार बाज़ार को प्रभावित करने में कर रही है l ये ही विदेशी कंपनी उसी ग्वार गम की थोड़ी बहुत वैल्यू एडिशन करके वापस 10 गुना ज्यादा कीमत पर भारत को ग्वार गम निर्यात कर देती है l 

इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 16 अप्रैल के सौदे के लिए 4384 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 30अप्रेल के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4406 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4400 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 16 अप्रैल के सौदे के लिए 8850 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8889 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4500 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 9000 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l 




किसान अपने माल को रोक कर चल सकते है इस लेवल पर 300-400 रूपए की बढ़ोतरी की उम्मीद है l बाज़ार के जानकारों के अनुसार आज की परिस्थिति के बनी रहती है तो जुलाई तक ग्वार के भावों में मजबूती बनी रहेगी l अगर बाज़ार की परिस्थितियों में बदलाव होता है या ग्वार की निर्यात की मांग और बढ़ जाती है तो ग्वार के भावो में और भी तेज़ी आ सकती है l ग्वार के भावों की 5000 के लेवल को वापस छूने की पूरी की पूरी उम्मीद है l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l



MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS