COPY PASTE

Saturday, 20 April 2019

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव क्या सिर्फ मानसून के पूर्वानुमान से निर्धारित होंगे l

इस सप्ताह भारतीय मौषम विभाग ने मानसून के आगमन से सम्बंधित पूर्वानुमान जारी किया l विदेशी मौषम एजेंसियों के विपरीत अल नीनो की संभावना को बहुत कम बताया है l प्रेस कांग्रेस के बाद वायदा बाज़ार में ग्वार के भावों में भारी गिरावट देखी गयी l किसान व व्यापारी वर्ग ग्वार के भावों में और ज्यादा गिरवाट की आशंका से चिंतित है l ग्वार के भावो को प्रभावित करने वाल मानसून अकेला कारक नहीं है l 




वैश्विक बाज़ार में कच्चे तेल की कीमतों में सुधार लगातार जारी है l कच्चा तेल ग्वार की कीमतों को प्रबह्वित करने वाल सबसे बड़ा कारक है l कच्चे तेल की कीमतों में सुधार होने से तेल की खुदाई की नयी गतिविधिया बढ़ेगी व ग्वार की मांग में भी बढ़ोतरी होगी l कच्चे तेल की कीमते पिछले 5-6 महीने के उच्चतम स्तर पर है l अभी कच्चे तेल के भाव 71 डॉलर प्रति बेरल से ऊपर चल रहे है l कच्चे तेल की बढाती कीमतों का फायदा अमेरिका की शैल गैस व तेल उत्पादन कंपनी को हो रहा है l 

क्या ग्वार व ग्वार गम  के भाव क्या सिर्फ मानसून के पूर्वानुमान से निर्धारित होंगे l Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

बेकर हुज के तेल के खुदाई के रिग काउंट के आंकड़े भी ग्वार के भावों के लिए सकारात्मक है 12 अप्रैल 2019 तक अमेरिका में 1022 आयल रिग सक्रिय है जो की पिछले वर्ष से 14 ज्यादा है l कच्चे तेल की कीमते बढ़ने से ग्वार व दुसरे ड्रिलिंग उत्पाद की मांग और बढ़ेगी l ग्वार गम की लग भाग 50-60% खपत कच्चे तेल के कुए की खुदाई उद्योग में होती है l 

मानसून के आम्भिक अनुमान से घबराने की जरूर अभी नहीं है l फसल का उत्पादन हो कर जब तक माल किसान अपने घर या गौदाम में ना डाल दे तब तक अनुमान को महज एक अनुमान ले कर ही चलाना चाहिए l अगले 2-3 महीने में 30,000-35,000 MT ग्वार की जरुरत ग्वार के बीज के रूप में होगी l किसान व व्यापारियों को 3-4 महीने घबराने की जरुरत नहीं है l अगले 6-7 महिने तक ग्वार की आवक बाज़ार में बहुत सिमित या नगण्य रहेगी l 




कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनी एनजीओ के माध्यम से समाज सेवा के नाम पर किसानों के बीच में बाजार की जानकारी इकठ्ठी कर रही है l इन जानकारी के सहारे वो किसानो से सस्ता ग्वार व व्यापारियों से सस्ती ग्वार गम खरीद रही है l बाज़ार की जानकारी व उत्पादन के आंकड़े इकठ्ठा करने के बाद ये कंपनी अपने हिसाब से बाजार को चलाती है l किसानो व व्यापारियों को ऐसी बहुराष्ट्रीय कंपनी, एनजीओ व समाजसेवा से दूर रहने की जरुरत है l 

इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 20 मई के सौदे के लिए 4320 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 30 अप्रेल के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4315 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4385 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 20 मई के सौदे के लिए 8700 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8733 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4500 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 9000 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l


No comments:

Post a comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS