COPY PASTE

Tuesday, 2 April 2019

ग्वार व ग्वार गम के भावों की का भविष्य नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगा ?

आज से नया वितवर्ष शुरू हो गया है व्यापार के हिसाब से यह समय बहुत ही महतवपूर्ण है l क्योंकि व्यापारिक प्रतिष्ठान आज से नया काम, नया निवेश या नये सौदे शुरू करते है l नए वितवर्ष में ग्वार की चाल कैसी रहेगी l आज इसके बारे में चर्चा करते है l ग्वार की कीमतों को प्रभावित करने वाले कई प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष कारण होते है l जैसे की फसल का उत्पादन, फसल की मांग, निर्यात के आंकड़े, NCDEX पर व्यापर का आकर या वॉल्यूम, क्रूड आयल के भाव, डॉलर की कीमतें, मानसून का आगमन, और भी बहुत सारे कारण है l 




मानसून के आगमन के अनुमान को ले कर अलग अलग मत सामने आ रहे है l पहले तो विदेशी व भारतीय मौषम एजेंसी एक ही शुर में चल रही थी l लेकिन अब भारतीय मौषम एजेंसीयों ने नया अनुमान जारी करके अच्छे मौषम का अनुमान बताया है l पिछले सप्ताह के अंत में अच्छे मौषम की खबर का असर ग्वार की कीमतों पर भी पड़ा l लेकिन बाज़ार के जानकारों के अनुसार यह मात्र एक अनुमान है, ग्वार उत्पादन क्षेत्र में ख़राब मौषम के अनुमान में अच्छा मौषम रहने की सम्भावन कम है l लेकिन अच्छे मौषम के अनुमान में ग्वार उत्पादन क्षेत्र में खराब मौषम रह सकता है l 

ग्वार व ग्वार गम के भावों की का भविष्य नए वित्त वर्ष 2019-2020 क्या रहेगा ?  Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019

नया वितवर्ष शुरू हुआ है तो व्यापार में तेज़ी आने की उम्मीद है l आने वाले दिनों में ग्वार के व्यापर में नया निवेश हो सकता है l साथ में ग्वार की मांग में भी बढ़ोतरी होगी l अन्तराष्ट्रीय स्तर पर तेल की खुदाई में लगी कंपनियों के मुनाफे में तेल के भाव बढ़ने से बढ़ोतरी होगी l ये कम्पनीज अपने मुनाफे को वापस ड्रिलिंग की गतिविधियों में लगाएगी l बढ़ते मुनाफे के साथ नए निवेश के आने की उम्मीद भी है l 




भारतीय ग्वार कंपनियां अभी भी पारम्परिक तरीके से ग्वार उत्पादों के निर्यात का काम कर रही है l ये कंपनी बिना किसी विशेष वैल्यू एडिशन के ही ग्वार उत्पाद निर्यात कर देती है l सरकार व ग्वार गम उद्योग वैल्यू एडिशन गतिविधि की अनदेखी कर रहे है l कुछ विदेशी कंपनी भारत के एनजीओ के साथ मिल कर किसानों के बीच CSR या समाज सेवा के नाम पर प्रोजेक्ट चलाती है, तथा ग्वार से सम्बंधित जमीनी डाटा इकठ्ठा करती रहती है l इस डाटा का उपयोग वो भारतीय ग्वार गम उद्योग व ग्वार बाज़ार को प्रभावित करने में कर रही है l ये ही विदेशी कंपनी उसी ग्वार गम की थोड़ी बहुत वैल्यू एडिशन करके वापस 10 गुना ज्यादा कीमत पर भारत को ग्वार गम निर्यात कर देती है l 

इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 16 अप्रैल के सौदे के लिए 4384 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 30अप्रेल के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4406 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4400 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 16 अप्रैल के सौदे के लिए 8850 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8889 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4500 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 9000 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l 




किसान अपने माल को रोक कर चल सकते है इस लेवल पर 300-400 रूपए की बढ़ोतरी की उम्मीद है l बाज़ार के जानकारों के अनुसार आज की परिस्थिति के बनी रहती है तो जुलाई तक ग्वार के भावों में मजबूती बनी रहेगी l अगर बाज़ार की परिस्थितियों में बदलाव होता है या ग्वार की निर्यात की मांग और बढ़ जाती है तो ग्वार के भावो में और भी तेज़ी आ सकती है l ग्वार के भावों की 5000 के लेवल को वापस छूने की पूरी की पूरी उम्मीद है l

ग्वार व ग्वार गम पर ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l



No comments:

Post a comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS