COPY PASTE

Wednesday, 20 February 2019

ग्वार व ग्वार गम के भावों में इस सप्ताह निर्यात की मांग से तेज़ी रहेगी

पिछले सप्ताह ग्वार व ग्वार गम की कीमतों में तेजी दिखाई दी बीएसई ( बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ) पर ग्वार के वायदे सौदे की लिस्टिंग के बाद में पिछले सप्ताह में ग्वार सीड व ग्वार गम की कीमतों मजबूत बनी रही l बाजार के जानकारों के अनुसार यह तेजी निर्यात में वृद्धि होने के कारण हुई है l साथ में पिछले सप्ताह कच्चे तेल की कीमतों में भी काफी वृद्धि हुई है l क्रूड आयल पिछले तीन महीने के उच्चतम स्तर 66.25 डॉलर/ बैरल के उच्चतम स्तर पर पहुँच गे है l कच्चे तेल की कीमतें ग्वार की कीमतों को सीधा प्रभावित करती है l क्योंकि ग्वार का प्रयोग कच्चे तेल और प्राकृत गैस की खुदाई में ड्रिलिंग  केमिकल के रूप में होता है l


बाजार के जानकारों की माने तो बाजार में ग्वार की आवाज बहुत कम रह गई है l अभी गवार की आवक बाजार में और भी कम रहेगी आने वाले दिनों में कमजोर आवक का प्रभाव ग्वार और ग्वार गम की कीमतों में देखने को मिल सकता है l बाजार के जानकारों के अनुसार बीएसई पर लिस्टिंग के बाद में ग्वार के व्यापार में वृद्धि हो रही है l वायदा व्यापार में बीएसई ग्वार के वायदा व्यापार में अपनी हिस्सेदारी धीरे-धीरे बढ़ा रहा है l पिछले सप्ताह ग्वार के कुल वायदा व्यापार का 36 परसेंट मार्केट शेयर बीएसई ने प्राप्त कर दिया है l बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) अपनी तकनीक व कम ट्रांजैक्शन कीमत के कारण अपना वॉल्यूम बढ़ा पा रही है l


एनसीडीईएक्स वायदा व्यापार अगले महीने यानी कि मार्च के सौदे में शिफ्ट हो गया है l मार्च में एनसीडीईएक्स पर ग्वारगम-5 मेट्रिक टन के सौदे के 67,700 ओपन इंटरेस्ट पर काम हो रहा है, वही ग्वार सीड में 10 मेट्रिक टन के वायदा सोदे का कारोबार 1,08,260 ओपन इंटरेस्ट का हो रहा है l थोड़ा बहुत व्यापार अप्रैल के सौदे में भी धीरे धीरे बढ़ रहा है l एनसीडीईएक्स पर ग्वार गम 5 मेट्रिक टन के वायदे का कारोबार मार्च के सौदे में 8426 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर हो रहा है l वन्ही ग्वार सीड 10 MT  मार्च का सौदा 4229 Rs/100 क्ग्भव पर हो  रहा है l 


स्थानीय बाजारों में हाजिर में ग्वार गम ₹8500 प्रति क्विंटल तथा ग्वार ₹4300 प्रति क्विंटल के भाव पर बिक रहा है l ग्वार की आवक स्थानीय बाजार में कम होने के कारण हाजिर बाजार में ग्वार के भाव में मजबूती है l अंतरराष्ट्रीय बाजारों में  कच्चे तेल के उत्पादन घटने के कारण कच्चे तेल के भाव में तेजी है l अगर यह तेजी आगे भी जारी रहती है तो अमेरिका में तेल उत्पादन  की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी जिससे ग्वार गम की मांग पढ़ सकती है l ग्वार गम निर्यात होने वाला एक महत्वपूर्ण कृषि उत्पाद है l प्रतिवर्ष 3,000 से ₹3500 करोड़ भारतीय रुपए की ग्वार गम का निर्यात होता है l निर्यात के आंकड़ों में और भी बढ़ोतरी हो रही है। ग्वार हुआ ग्वार गम की कीमतों में इस सप्ताह भी तेजी रहने की उम्मीद है धीरे धीरे ग्वार की आवक में कमी हो रही है l 

Saturday, 16 February 2019

ग्वार के किसान ग्वार की फसल से लाभ कैसे कमाए ?

ग्वार के किसान ग्वार की उपज से मुनाफा कैसे कमाए ? किसान मेहनत कर के ग्वार की फसल लेता है , अच्छी फसल होने के बाद भी किसान को कई बार मुनाफा नहीं मिलता l इस विडियो में बताया गया है की किसान ग्वार की फसल से अच्छा लाभ कैसे कमाए l ग्वार के किसान ग्वार की फसल को एक नार्मल फसल की तरह लेते है l ग्वार एक औधोगिक फसल है l, ग्वार की खेती व बेचान सावधानी से करना चाहिय l किसान जितना ध्यान रखेंगे उनको उतना ही फायदा होगा l ग्वार की कीमतों में लगातार उतर चढाव होते रहते है l कई बार  किसान को अपनी फसल का उचित दाम नहीं मिलता l 


Friday, 15 February 2019

ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर शुरू.



MCX पर ग्वार का व्यापर बंद होने के 5-6 साल बाद ग्वार सीड व ग्वार गम को वायदा व्यापार के लिए दूसरा प्लेटफार्म मिल गया है, पिछले महीने बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) को SEBI से ग्वार के वायदा व्यापार की मंजूर मिली थी. Sebi ने ग्वार सीड व ग्वार गम के 10 MT के सौदों के ट्रेडिंग की मंजूरी दे दी थी. कल 6 जनवरी को बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) ने इस सौदो के व्यापार की जयपुर में विधिवत रूप से शुरुवात करदी . इस अवसर पर बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के मैनेजिंग डायरेक्टर आशीष कुमार चौहान ने कहा की भारत में कृषि जिंसो का वायदा व्यापार अभी शुरवाती दौर में है इसमे विकाश की अपार संभावना है. बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) इन दोनों सौदों की शुरुवात अभी 10 मीट्रिक टन के लोट साईज से की गयी है BSE पर ये सौदे फ़रवरी से दिसम्बर महिने तक के होंगे. NCDEX के व्यापार का मुख्य हिस्सा ग्वार के वायदा व्यापार से आता है अब बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) अपने एग्री कमोडिटी के व्यापार की शुरुवात ग्वार से ही शुरू कर रहा है ग्वार का 85 % उत्पादन राजस्थान में ही होता है इसी लिए बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) ने अपनी पहली कमोडिटी की लिस्टिंग राजस्थान की राजधानी जयपुर में की हैl 



व्यापार के हिसाब से कल का दिन ग्वार के लिए अच्छा नहीं रहा, बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर वायदा व्यापार की लिस्टिंग के दिन ही वायदा बाज़ार में दोपहर के बाद lower सर्किट लग गए. कल सुबह सुबह बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर वायदा सौदों की लिस्टिंग के पहले काफी उत्साह था लेकिंन लोअर सर्किट लगने के बाद पूरा दिन मायूशी में रहाl. एग्री कमोडिटी का व्यापार हमेशा से ही क्वालिटी व डिलीवरी के कारण विवादों से भरा रहा है . जिससे निवेशकों व किसानो का भरोसा वायदा व्यापार में ज्यादा नहीं है . अगर किसी योजना व प्रबंधन के तहत बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) व्यापारी, निवेशक व किसानो का भरोसा मजबूत करने में सफल होता है तो एग्री कमोडिटी वायदा व्यापार के लिए भविष्य में एक मील का पत्थर साबित होगा. 

ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर शुरू.  Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर शुरू. 

ग्वार का नया उत्पादन अब 10 महिने बाद आएगा, तब तक नया उत्पादन बाज़ार में नहीं आएगा. बाज़ार में कीमतों की चाल ग्वार के निर्यात पर निर्भर करेगा. वैसे कुल निर्यात के आंकड़े अभी तक बढ़ कर आ रहे है लेकिन ग्वार गम पाउडर व ग्वार गम स्प्लिट दोनो को मिला करके का निर्यात के आंकड़े ज्यादा आना बहुत जरुरी है, apeda द्वार जारी आंकड़ो के अनुसार नवम्बर महीने तक ग्वार गम पाउडर के निर्यात में कमी देखी गयी है . अगर निर्यात में कमी जारी रहती है तो इस वर्ष ग्वार की कीमतों में विशेष तेज़ी देखने को नहीं मिल्केगी . बाज़ार के जानकारों से प्राप्त जानकारी के अनुसार दिसम्बर जनवरी महीने में ग्वार का निर्यात ज्यादा हुआ है.



Monday, 11 February 2019

ग्वार को रोक कर के रखे या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचकर निकले ?

ग्वार को रोके या फिर बेच कर निकले ?


फ़रवरी महीने के पहले सप्ताह में ग्वार के भावों में भारी गिरावट देखने को मिली है  ग्वार के किसान व व्यापारी भाई बडी दुविधा में है की ग्वार को रोक कर के रखे या फिर और ज्यादा घाटे से बचने के लिए ग्वार को बेच दे  कई किसान भाइयों ने फ़ोन कर के इसके बारे में पूछा भी था । सबसे पहले विश्लेषण करते है, फसल उत्पादन की  इस वर्ष फसल का उत्पादन 70-80 लाख बोरी का है । कम बीजाई, लेट बारिश व असंतुलित बारिश के कारन फसल का उत्पादन इस वर्ष कम ही ले कर चल रहे है । राजस्थान सरकार के जारी आंकड़ो के अनुसार ग्वार का उत्पादन इस वर्ष 1 करोड़, 45 लाख बोरी का था । इसमें 20 लाख बोरी दुसरे प्रदेश की मिला ले तो कुल उत्पादन 1 करोड़ 60 लाख के करीब पहुँच जाता है । इस तरह दोनों आकड़ों में लगभग 80-90 लाख बोरी का अंतर आ रहा है । सरकारी आंकड़े में ग्वार की बिजाई के आंकड़े बढ़ कर ही आते है । पिछले साल के आंकड़ों में ज्यादा तर देखा गया है कि दूसरी फसलों के आंकड़ें पुरे होने के बाद जो जमीन बच जाती है वो ग्वार के नाम लिख देते है ।


ग्वार बाज़ार में घटती आवक पर भाव क्यों टूटे 


अगर वास्तव में ग्वार उत्पादन ज्यादा होता तो कटाई के बाद मुख्य आवक के समय नवम्बर दिसम्बर में ही ग्वार के भाव टूट जाते । नवम्बर दिसम्बर के महिने में ग्वार की मुख्य आवक रहती है, लेकिन इसके विपरीत इस वर्ष ग्वार के भावों में मुख्य आवक के समय तेज़ी देखने को मिले थी । अगर ग्वार की आवक ज्यादा होती तो, ग्वार के भाव उस समय घटाकर बोले जाते । लेकिन ग्वार के भाव मुख्य आवक कम होने के बाद फ़रवरी में टूट रहे है । कही न कही छोटे व्यापारी व किसानो पर कम कीमतों का दबाब बना कर रोके हुए ग्वार को बाहर निकालने की कोशिश प्रतीत होती है ।

ग्वार को रोक कर के रखे  या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचे  ? , Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
ग्वार को रोक कर के रखे  या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचे  ? 
ग्वार के कुल निर्यात के आंकड़ों में भी अभी तक किसी तरह की कमी नहीं दिखाई दे रही है । दूसरी और प्रति मीट्रिक टन ग्वार के निर्यात के भाव भी बढ़ कर आ रहे है । वर्ष 2017-18 में ग्वार गम का निर्यात 1253 डॉलर प्रति टन के भाव पर हुआ था । वर्ष 2018-19 में यही ग्वार गम 1327 डॉलर प्रति टन के भाव पर निर्यात किया गया था यानि की 74 डॉलर प्रति टन के अधिक भाव पर निर्यात हो रह है । अभी जनवरी, फ़रवरी मार्च तीन महिने के आंकड़े आने बाकी है । इसका मतलब मांग व मंदी वाली कोई बात नजर नहीं आरही । भारतीय रुपयों में देखे तो कुल निर्यात की कीमत में 16 % प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई हैl मांग है तभी हो आयत करने वाले बढ़ा कर पैसे दे रहे है ।


5000 प्रति/क्विंटल से ऊपर के ग्वार के भाव नहीं सोचे 


अभी ग्वार के बाज़ार भावों के ज्यादा दबाब में आने की जरुरत नहीं है। क्योंकि नया माल 10 महिने बाद आयेगा। छोटे किसानो के पास ज्यादा माल रोकने की क्षमता नहीं होती, उनका माल बाज़ार में आ चुका है । अब बाज़ार में स्टॉकिस्ट व बड़े किसानो का माल फैक्ट्री में सप्लाई होगा । स्टॉकिस्ट का माल तेज भावों में स्टॉक किया हुआ है । स्टॉकिस्ट घाटा खा कर के फैक्ट्री को माल नहीं सप्लाई करेगा । ग्वार गम की फैक्ट्रीयों में तो माल लगेगा ही लगेगा । डिमांड अभी अच्छी बनी हुयी है । 4700-4900 के भाव के इंतज़ार में किसान रोका सकता । बाकी इस साल 5000 प्रति/क्विंटल से ऊपर की सोच, मन में नहीं रखे । फ़िलहाल स्थानीय बाज़ारों में ग्वार की आवक कम ही है । आगे रबी की फसल आने के बाद हरीफ की फसल की आवक एक दूँम कम होजाएगी ।

Wednesday, 6 February 2019

अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात

इस सप्ताह कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) ने कृषि उत्पादों के निर्यात के आरंभिक आंकड़े जारी किये । इन आंकड़ों के अनुसार भारत ने अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 3,72,816 MT ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात किया है । जो की पिछले साल अप्रैल 2017 से दिसम्बर 2017 के निर्यात से 7332 MT ज्यादा है । अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 के बीच निर्यात किये गए ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों की कीमत 3437 करोड़ भारतीय रुपयों या 492 मिलियन अमेरिकी डॉलर है । पिछले साल इसी समय के दौरान भारत ने 365487 MT ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात किया था । पिछले साल निर्यात किये गए ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों की कीमत 2951 करोड़ भारतीय रुपए या 458 मिलियन अमेरिकी डॉलर थी । भारतीय ग्वार गम प्रोसेसिंग उद्योग व ग्वार किसानों के लिए यह एक अच्छा व सकारात्मक समाचार है । पिछले चार वर्षों से ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात प्रतिवर्ष बढ़ता जा रहा है। यहाँ पर ध्यान देने लायक बात यह है कि इन आंकड़ों में ग्वार गम, ग्वार चुरी, ग्वार स्पलिट, ग्वार ग्वार कोरमा सभी का निर्यात शामिल है । विस्तृत आंकड़े जारी होने के बाद विस्तार से विश्लेषण करेंगे । 


ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात तेल व प्राकृत गैस के कुओं की खुदाई की नयी गतिविधियों तथा पशु आहार प्रोटीन की मांग के साथ बढ़ता जा रहा है । विश्व में कच्चा तेल व गैस का उत्पादन अपने उच्चतम स्तर पर है । कच्चे तेल उत्पादक देश जैसे इराक, सीरिया, लीबिया, इरान, वेनिजुयेला में राजनैतिक उथल पुथल के कारण कच्चे तेल की सप्लाई कम हो गयीए है । अमेरिका व अन्य सहयोगी देशो में कच्चे तेल व प्राकृत गैस की खुदाई का कार्य प्रगति पर है ।

अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात , Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात 
सोयाबीन उत्पादक देशो से सोयाबीन उत्पादन के संभावित कम उत्पादन से ग्वार चुरी कोरमा की एक्सपोर्ट की डिमांड बहुत ज्यादा है । कम उत्पादन की सम्भावना के कारन भारतीय सोयाबीन बाज़ार में भी तेज़ी चल रही है । 2 फ़रवरी को जारी बैकर हुज रिग काउंट के आंकड़ों के अनुसार 1045 तेल खुदाई की रिग संयुक्त राज्य अमेरिका में सक्रिय है । जो की पिछली साल के मुकाबले 99 ज्यादा है । बैकर हुज सक्रिय रिग काउंट की संख्या तेल की खुदाई की सेवा व रसायनों की मांग का मानक है । बैकर हुज रिग काउंट के आंकड़े हर सप्ताह जारी करता है ।


सुस्त व्यापारिक गतिविधियों के कारण स्थानीय मंडियों व वायदा बाज़ार में ग्वारग्वार गम दोनों कमोडिटी के के भाव में मंदी बनी हुईं है। अच्छी क्वालिटी का ग्वार 4300 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास बिक रहा है । औसत गुणवत्ता वाला ग्वार 4200 रुपये प्रति क्विंटल के भाव में बिक रहा है । बाज़ार में मानक गुणवत्ता वाली ग्वार गम दाल का भाव 8500 रुपये प्रति क्विंटल है । अंदरूनी इलाकों में ग्वार का भाव 4100 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास है । वायदा बाज़ार में ग्वार के कारोबार में कमजोरी देखी जा रही है ।  एनसीडीईएक्स (नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड) में ग्वार बीज -10 एमटी ग्वार गम के अनुबंध का व्यवसाय 3% के लोअर सर्किट के बाद बाद बंद है 

Tuesday, 5 February 2019

ग्वार पर ग्वार के एक्सक्लूसिव youtube ( यूट्यूब ) चैनल / Exclusive Youtube Channel on Guar Gum.


ग्वार के एक्सक्लूसिव youtube ( यूट्यूब ) चैनल पर देखिये ग्वार के ताज़ा बाज़ार भाव व आगे की चाल पर नया विडियो. Please view our video about current Guar price and Future movement, guar exclusive Youtube Channel on Guar Gum.



Sunday, 3 February 2019

क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है ?

फ़रवरी महीने की शुरु वात ग्वार गम व ग्वार के भावों में मंदी के साथ शुरू हुई है । ग्वार के भाव 4300 रुपये प्रति क्विंटल से टूट कर 4200/क्विंटल के आस पास आ गये । घटती हुई आवक के साथ भावों में मंदी से किसानों व निवेशकों में निराशा है। पिछले तीन चार साल से ग्वार के भावों में 5% -10% बढ़ोतरी प्रतिवर्ष हो रही है । लेकिन ग्वार के सुस्त भावों के कारण ग्वार की खेती का क्षेत्रफल सिकुड़ता जा रहा है, जिससे की ग्वार के उत्पादन में भी कमी हो रही है । किसान व्यापारी कम उत्पादन के संभावना के कारण ग्वार को पिछले 3-4 साल से अपने-अपने हिसाब कम या ज्यादा मात्र में रोक कर के रखे रखे हुए है। नए ग्वार की आवक बाज़ार में धीर धीर रही है। उसके बावजूद भी ग्वार के भावों में मंदी या सुस्ती छाई हुई है। घटते दामों पर भी निर्यात के अनुसार बाज़ार में ग्वार की उपलब्धता बनी हुई है । कम उत्पादन के बावजूद क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का पुराना ग्वार बाज़ार में आ रहा है ?



अक्टूबर के आखिर में ग्वार की नई उपज की आवक बाज़ार में शुरू होती है । इस वर्ष दिसम्बर महीने में ग्वार के भाव में ग्वार की आवक के साथ तेज़ हुए थे । लेकिन उसके बाद ग्वार के भावों में सुस्ती आने लग गयी । किसान व स्टॉकिस्ट 30,000 के भावों के इंतज़ार में अभी भी है । लेकिन बाज़ार में ग्वार व ग्वार गम के भावों की चाल देख कर इतनी तेज़ी अभी नहीं लग रही है । बाज़ार को ग्वार गम के निर्यात के नए आंकड़ों के आने की उम्मीद इस महीने है । अभी तक बाज़ार में नवम्बर महीने तक के ग्वार गम के निर्यात के आकडे उपलब्ध है।

क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है, Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है ।
पिछले 2-3 महीने में अमेरिका में कच्चे तेल के दाम बढे है । विश्व में कच्चे तेल का उत्पादन बढ रहा । 28 जनवरी तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार कच्चे तेल का उत्पादन 84.4 मिलियन बैरल प्रति दिन है । कच्चे तेल का यह उत्पादन अपने अभी तक के उच्चतम स्तर पर है । वैश्विक राजनीति में तेल उत्पादक देश वेनेजुएला के संकट के कारण अमेरिका अपने कच्चे तेल का उत्पादन और भी बढ़ायेगा ।



फ़रवरी महीने में ग्वार व ग्वार गम का वायदा व्यापार बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर शुरू होने जा रहा है । बाज़ार के विश्लेषकों के अनुसार इससे ग्वार व ग्वार गम के वायदा व्यापार में पारदर्शिता बढ़ेगी । ग्वार के भावों की जानकारी का अन्य महत्वपूर्ण श्रोत खुल जायेगा तथा NCDEX पर ग्वार के वायदा व्यापार की निर्भरता कम होगी । अपुष्ट श्रोत से प्राप्त जानकारी के अनुसार BSE पर ग्वार के वायदा व्यापार की लिस्टिंग 6 फ़रवरी 2019 को जयपुर में होने जा रही है । ग्वार भारत की महत्वपूर्ण निर्यात आधारित औद्योगिक फसल है । अनुमान के मुताबिक बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर लिस्टिंग के बाद ग्वार के भावों में तेज़ी आएगी क्योंकि बाजार में ग्वार का स्टॉक व डिलीवरी की लोकेशन बढ़ेगी। ग्वार के व्यापार की ट्रांजेक्सन बढ़ेगी। बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर लिस्टिंग के बाद ग्वार पर निवेशकों का भरोसा बढेगा तथा ज्यादा निवेशक ग्वार की और आकर्षित होंगे । सटोरियों की गतिविधि दो-दो वायदा बाज़ार पर एक साथ नहीं हो सकती।

Monday, 28 January 2019

Guar gum production, guar gum export and current price trend.

Guar is legume crop grown in Rajasthan Haryna, Gujarat (India) and some part of Pakistan. Crop has emerged as major industrial crop of the desert area of India and Pakistan. Guar seed are harvested from Guar crop. Guar seeds are further processed into the guar gum split and guar gum powder. Guar protein/ Guar meal/ Guar Churi Korma is by product of guar gum processing industry. Major part of Guar gum powder is used in Oil and Natural Gas Industry. USA, Norway China, Netherlands and Russia are major importer of Indian guar gum powder. It is used in fracking process for shale oil and gas production. India has exported 3,30,974 MT of guar gum and other guar products from April-2018 to November-2019. India exported total 1,13,191 MT guar gum and other guar products only to USA, which is 34.19% of total export quantity. After it, Norway is major destination for Indian guar products. India exported 45,284 MT guar products to Norway, which is 13.68 % of total guar products export. 




USA import Guar gum powder for fracking process in oil and natural gas well drilling industry. USA has emerged as leading producer of crude oil after USA and ambitious to become the leader of crude oil trade. After this USA import guar gum powder for food processing and pharmaceutical industry. Guar gum powder is used in food processing as thicker agent, it is used in ice cream and dessert. Now use of guar gum powder is increasing for gluten free cooking. Many people are allergic to gluten content in wheat and other food material. Application of guar gum can increase in many other industries. Industries and people in USA are not too much aware about Guar gum. Many people ask in USA that what is guar gum ? 

Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
Guar gum production, guar gum export and current price trend. 
Guar churi/Korma is used as animal feed and cattle feed. Guar gum is rich source of protein. It is widely use in cattle feed, fish meal, pet food. Now cattle feed industries in Europe and USA are using it as replacement of soybean meal. Soybean prices are in upward movement due to trade dispute between China and USA. Churi Korma may get new market as replacement of Soya meal. There is more than 42% protein content in Guar Churi korma in raw form. It may go more than 52% after cleaning and roasting. Export of Guar korma and Guar churi in increasing at premium price. Though traditionally guar is used as cattle feed in guar seed / guar gum cultivation area. 




This year price trend for guar seed and guar gum is very speculative. Guar bhav are regularly fluctuating with price movement in NCDEX guar seed guar gum price. Arrival of new production of Guar in local guar mandi will be all most stop after January. A miner quantity will come from the big farmers and local traders. Whenever prices go up toward the 5000/100 Kg then investors trim the upper positions and book their profit. At lower side once the prices go down to 4200/100 Kg then strong buying is noticed at lower level.

Monday, 21 January 2019

क्या ग्वार व ग्वार गम के भावों में, बीएसई पर ग्वार के वायदा व्यापार की मंजूरी से तेज़ी आएगी ?




पिछले सप्ताह बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) को सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) से ग्वार सीड व ग्वार गम के 10 मीट्रिक टन सौदे के वायदा व्यापार के लिए मंजूरी मिल गयी है । इसके साथ ही बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) एक यूनिवर्सल स्टॉक एक्सचेंज हो जाएगा, जिस पर सभी प्रकार की परिसम्पति उत्पादों (शेयर, म्यूच्यूअल फण्ड, मुद्रा, धातु, कमोडिटी ) का व्यापार होता हो । इसके साथ ही ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार दो वायदा बाज़ारों में शुरू हो जायेगा। ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार अभी एनसीडीएक्स (NCDEX ) पर ही होता है। इससे पहले ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार एनसीडीएक्स (NCDEX) के अलावा एमसीएक्स (MCX) पर होता था लेकिन वर्ष 2013 से ग्वार का व्यापार बंद है।



वैसे तो अभी एनसीडीएक्स (NCDEX) सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) के दिशा निर्देश में ही ट्रेड करता है लेकिन बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के प्रवेश के साथ ग्वार के व्यापार में और भी पारदर्शिता व मजबूती आएगी । बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) ने वायदा व्यापार के सफल संचालन के लिए कई प्रतिष्ठित व्यापारिक संस्थान, वेयर हाउस कंपनी, परिवहन कंपनियों से समझौते किए है । 

क्या ग्वार व ग्वार गम के भावों में, बीएसई पर ग्वार के वायदा व्यापार की मंजूरी से तेज़ी आएगी ?  Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019, guar, guar gum, cluster beans, guar gum powder, guar gum price, guar gum uses, ncdex guar, guar price, guar gum price today, cyamopsis tetragonoloba, ncdex guar gum price, guar beans, guar rate today
क्या ग्वार व ग्वार गम के भावों में, बीएसई पर ग्वार के वायदा व्यापार की मंजूरी से तेज़ी आएगी ? 
पिछले सप्ताह के अंत में जनवरी-2019 माह के वायदा सौदे के निस्तारण के कारण बिकवाली के दबाब में ग्वार के भावों में कमी आ गई थी। अत्यधिक सट्टेबाज़ी के चलते बाज़ार में निचले भावों पर खरीदारी करके ऊँचे भावों पर मुनाफा वसूली का दौर पिछले 3-4 महीनों से चल रह है । स्थानीय बाज़ारों में ग्वार की घटती आवक के साथ ग्वार के भावों को नीचे की तरफ स्थिरता मिल सकती है । कीमतों का रुख दिसम्बर व जनवरी माह के निर्यात के आंकड़ों पर निर्भर करेगा । अगर आंकड़े पिछले वर्ष से बढ़ कर आते है तो अक्तूबर 2019 तक ग्वार के भावों में तेज़ी बनी रहेगी, नहीं तो ग्वार के उत्पादों पर फ़रवरी महीने से बिकवाली का दबाब बनेगा । नवम्बर दिसम्बर जनवरी में ग्वार के उत्पादन के बाज़ार में आने का समय होता है। आवक के समय पर कृषि जिंसों की कीमतों में दबाव बना रहता है । जनवरी अंत तक ग्वार की मुख्य आवक लगभग समाप्त हो जाएगी ।



अन्तराष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल की कीमतों में तेज़ी आ रही है, जिसका आने वाले दिनों में ग्वार के भावों पर असर पड़ सकता है । कच्चे तेल की कीमतों में पिछले 30 दिनों में 20-25 % तक बढ़ोतरी हो गयी है । बढते क्रूड आयल की कीमतों से अमेरिका में फ्रेकिंग तकनीक से कच्चे तेल का उत्पादन बढ सकता है, जिससे ग्वार गम के निर्यात में तेज़ी आ सकती है । बेकर-हुज कंपनी की सक्रिय आयल रिग की गिनती के अनुसार पिछले सप्ताह १८ जनवरी तक अमेरिका में 1050 आयल रिग सक्रिय है जो की पिछले वर्ष से 114 आयल रिग ज्यादा है । 

ग्वार की कीमतों ने अपना स्तर 4200 से 4800 के बीच बना रखा है । गिरते भावों पर नीचे के स्तर पर खरीददारी व चढते भावों पर 4500-4600 के स्तर पर मुनाफा वसूली के ट्रेंड के कारण एनसीडीएक्स (NCDEX) में ग्वार की कीमतों में उतार चढ़ाव बना रहता है । एनसीडीएक्स (NCDEX) पर 12,37,200 MT ग्वार सीड व 3,83,850 MT ग्वार गम के चालू सौदों पर व्यापार हो रहा है । ग्वार का प्रयोग आयल व गैस उद्योग के अलावा खाद्य पदार्थों के निर्माण व प्रसंस्करण में भी होता है ।

Thursday, 17 January 2019

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ?

पिछले 3-4 साल से ग्वार के भाव 5000 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से ऊपर नहीं जा रहे l किसान व्यापारी, स्टॉकिस्ट सभी बड़ी तेज़ी का इंतज़ार कर रहे है सभी के पास में एक ही सवाल है की क्या ग्वार व गवारा गम के भाव में फिर बड़ी तेज़ी दिखेगी ? अभी तक ग्वार के भाव 4000-5000 प्रति क्विटल के दायरे में ही चल रह है l वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए ग्वार के भाव इस सीमित दायरे से ऊपर की तरफ बाहर निकलता दिखाई दे रहा है l वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ो के अनुसार इस वर्ष (2018-19) अप्रैल से नवम्बर तक 1,83,046 मैट्रिक टन ग्वार गम पाउडर व 46,532 मैट्रिक टन साफ़ की हुयी ग्वार गम सप्लीट का निर्यात किया जा चूका है । दोनों को मिला कर के कुल 2,29,578 मैट्रिक टन ग्वार गम का निर्यात हो चुका है । पिछले वर्ष ( 2017-18 ) के दौरान 3,21,923 मैट्रिक टन ग्वार गम पाउडर व 41,177 मैट्रिक टन ग्वार गम सप्लीट का निर्यात हुआ था । कुल मिलाक कर पिछले वर्ष 3,66,663 मैट्रिक टन ग्वार गम का निर्यात हुआ था ।


प्राप्त आंकड़ो के हिसाब से पिछले वर्ष पुरे साल में 1,34,00,000-1,40,00,000 बोरी ग्वार की प्रोसेसिंग से प्राप्त ग्वार गम का निर्यात हो चुका था । इस वर्ष नवम्बर महीने तक लगभग 85,02,880 - 90,00,00 बोरी ग्वार से प्राप्त गार गम का निर्यात हो चूका है । बाज़ार से प्राप्त आंकड़ो के अनुसार इस वर्ष ग्वार का उत्पादन 80,00,000 बोरी का था । कृषि विभाग के आंकड़े के अनुसार भी उत्पादन 1 करोड बोरी के आस पास ही रहने की उम्मीद है । मांग व उत्पादन में असंतुलन साफ़ साफ़ अंतर दिखाई दे रहा है । इन आंकड़ो के अलावा 4-5 महिने बाद ग्वार की बीजाई होगी । उसमें भी ग्वार की काफी मात्र लगेगी । ग्वार की स्थानीय खपत की मांग भी रहती है । कुछ हिस्सा ग्वार का स्टॉक में हमेशा रहता है । इस साल 1.5 से 2 करोड़ बोरी के आस पास खपत रहेगी । 

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ?, Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019, guar, guar gum, cluster beans, guar gum powder, guar gum price, guar gum uses, ncdex guar, guar price, guar gum price today, cyamopsis tetragonoloba, ncdex guar gum price, guar beans, guar rate today
क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ? 
अगर अमेरिका में शैल क्रूड आयल का उत्पादन बढ़ता है तो ग्वार गम के निर्यात में और तेज़ी आएगी । मांग व उत्पादन में असंतुलन, ग्वार के भावों को ऊपर की और ले जा सकता है । ग्वार की मुख्य मांग अमेरिका के तेल व अमेरिका के तेल व गैस .उद्योग से आती है । अमेरिका में फ्रेकिंग तकनीकी से कच्चे तेल का उत्पादन होता है । फ्रेकिंग तकनीक में ग्वार गम का उपयोग होता है । अन्त राष्ट्रीय बाजारों में अगर कच्चे तेल के दाम बढ़ते है तो ग्वार गम की मांग में निश्चित ही बढ़ोतरी होगी । लेकिन अभी की मांग व उत्पादन को ध्यान में रखते हुए 2012 में ग्वार के भावों में हुई उथल पुथल के दुहराने की उम्मीद कम ही है ।


ग्वार एक औद्योगिक मांग वाली कृषि कमोडिटी है। जिसका सीधे खाने में प्रयोग नहीं होता है । अचानक मांग बढ़ने से भावों में असर देखने को मिल सकता है । बाकि अगर भावों को देखे तो इस वर्ष ग्वार के भाव 4000/क्विटल से नीचे नहीं गए है । बाज़ार में चुरी कोरमे की मांग व भाव भी अच्छे है । कोरमे के भाव 3000 रुपये प्रति क्विंटल से ऊपर चल रहे है । जबकि वर्ष 2012 में कोरमे के भाव इतने ऊँचे नहीं थे । ग्वार चुरी कोरमे का प्रयोग सोया प्रोटीन की जगह पशुओं को प्रोटीन की आपूर्ति रूप में देने के काम आता है । ग्वार के भावों में फसल की आवक से ही पिछले वर्ष से ज्यादा तेज़ी है । वर्ष 2017-18 में ग्वार चुरी कोरमे का निर्यात 1,27,437 मीट्रिक टन हुआ था इस वर्ष 2018-19 में ग्वार चुरी कोरमे का निर्यात 1,01,395 मीट्रिक टन हो चूका है । नया ग्वार लगभग 10 महीने बाद आएगा । अगले दस महीने तक मौजूद उत्पादन से काम चलाना पड़ेगा। 

अगले दस महीने के अन्तराल को देखते हुए किसान व व्यापारियों को ग्वार को एक साथ में निकालना / बेचना नहीं चाहिए । मांग व आवक के ऊपर नीचे होने से भावों में तेज़ी मंदी होती रहेगी । प्राप्त आंकड़ो को देखते हुए हुए ग्वार अभी भी एक मजबूत स्थिति में है। बाकि बाज़ार की चाल पर निर्भर करेगा । NCDEX में ग्वार 10 MT के 1,31,000 चालू सौदे है जिसका मतलब NCDEX में 1.31 करोड बोरी (प्रति बोरी 1 क्विंटल) का व्यापार अभी चल रहा है ।

Sunday, 13 January 2019

Guar seed and guar gum is giving return in short term trade.



Guar seed and guar gum are major tradable agriculture commodity at NCDEX. Guar is also known as cluster bean as guar pods fruits in clusters on branches. Botanically / scientifically guar is known as Cyamopsis tetragonoloba. Guar gum powder is an important industrial product used for various application in many industries. During this week Guar gum price and Guar seed prices has fallen drastically at lower level, of current cropping season in future trading at NCDEX. In physical market Guar and Guar gum prices are stronger than NCDEX guar price and NCDEX Guar gum price. Spot prices of Guar gum are stronger than the future prices of NCDEX guar Gum. Farmers and traders were expecting the better prices with decreasing arrival and increasing export demand. But NCDEX Guar and NCDEX Guar gum prices are falling against the positive fundamentals.




This year Guar seed farmers and guar gum exporter were expecting better return due to limited supply of guar seed and good demand of guar gum. Rate of guar seed has not crossed the level of INR 4900/ 100 Kg. Prices of Guar gum and guar gum has fallen very low and touched the lowest level of this season. But in-depth analysis we see that prices are moving up and down regularly. Prices has gone up and then fallen, again gone up and fallen again. Any buying at lower level after price fall has given good return. 

Guar seed and guar gum is giving return in short term trade. , Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019, guar, guar gum, cluster beans, guar gum powder, guar gum price, guar gum uses, ncdex guar, guar price, guar gum price today, cyamopsis tetragonoloba, ncdex guar gum price, guar beans, guar rate today
Guar Seed and Guar Gum price movement in India- 2018-2019
Next four months February, March, April and May will be very Crucial for guar seed and guar price trends. If the guar prices will remain at higher side, then it will lead to increase the sowing area of Guar. If the price of guar seed and price of guar gum will remain toward the lower side, then the sowing area of Guar will come down further. With falling prices people are discussing that application of guar gum substitute has increased in oil and natural gas industry. This is not true. Oil drilling activities in USA are higher than previous year. 1075 Oil rigs are active in USA as on 11th January 2019, which are 136 higher than previous year. Guar gum emerging as Xanthan gum replacement.




Guar seed and Guar gum commodities are being quoted strong in physical markets due to strong buying of of guar gum. Prices of Guar seed and Guar gum both are quoted stronger than previous close. Forward price of Guar seed and Guar gum are also strong due to buying at lower levels in NCDEX. Bold quality of guar seed is traded at Rs 4300/100Kg and average quality normal guar seed is traded at Rs 4200/100 Kg. Standard quality guar gum is traded at Rs 8400/100 kg. In interior location, guar seed is traded up to 4100/100 Kg. Guar seed is being quoted high in the future market. At NCDEX (National Commodity & Derivatives Exchange Ltd) guar seed-10MT is closed at Rs 4152, 4207, 4262 higher by 0.25 percent or INR 10.5/100 Kg, 0.25 percent or INR 10.5/100 Kg, 0.48 percent or INR 20.5/100 Kg with open interest of 10660, 114700, 10590 for January, February and March month contracts.




Guar gum is being also traded strong in the future market. At NCDEX (National Commodity & Derivatives Exchange Ltd) Guar gum- 5MT closed at Rs 8180, 8240 higher by 0.59 percent or Rs 48/100Kg, 0.06 percent or Rs 5/100Kg with an open interest of 1380, 70005 for January and February month contracts.

Monday, 7 January 2019

Guar gum demand will remain strong in last quarter 2018-19



Guar gum demand will remain strong than previous year. India has exported 3,30,978 MT guar gum by the end of October month. Guar is major exportable farm commodity form India. Major demand of Guar arises from Oil and natural Gas industry. Crop is cultivated from June to October and major arrival of crop starts to come from October to January. This year production of Guar seed as lower than was previous year. As per the Agriculture Department of Govt of, This year guar seed was cultivated on 34,18,000 Hactare area. As per market man average Yield of Guar seed in Rajasthan is around 250 Kg / hectare. As per these inputs Total production of Guar will be between 80,00,000 – 90,00,000 Bags. 



Guar gum is used in the oil drilling activities in USA. As per the backer hudges rig count Oil drilling activities are increasing in USA. Currently 1075 oil rigs are active in USA. Which are 151 more than the previous year. Shel oil production is increasing in USA. Demand of heating oil and Gas remains high in Cold countries of northern globe. Shale oil and gas production will increase in USA and Canada. Oil and gas exploration in south American countries are increasing and export of Indian guar gum is also increasing in south American countries. 

Guar gum demand will remain strong,Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019
Guar gum demand will remain strong.
Demand of Indian Guar and Churi Korma is also high from China due to trade ware between China and USA. Prices and Demand of Churi Korma is high in market. There is 48-52 % protein content in Guar Churi Korma. Guar protein is used as substitute of Soya meal and Soya protein. 

Guar seed and Guar gum commodities are being quoted strong in physical markets due to strong export demand of guar gum. Prices of Guar seed and Guar gum both are quoted higher then previous close. Forward price of Guar seed and Guar gum are also strong due to buying at lower levels in local markets. Bold quality of guar seed is traded at Rs 4400/100Kg and average quality guar seed is traded at Rs 4300/100 Kg. Standard quality guar gum is traded at Rs 8650/100 kg. In interior location, guar seed is traded up to 4200/100 Kg. Guar seed is being traded strong in the future market. At NCDEX (National Commodity & Derivatives Exchange Ltd) guar seed-10MT is closed at Rs 4348, 4394, 4445 higher by 0.24 percent or INR 10.5/100 Kg, 0.26 percent or INR 11.5/100 Kg, 0.58 percent or INR 25.5/100 Kg with open interest of 45160, 87190, 4730 for January, February and March month contracts. 



Guar gum is being also traded strong in the future market. At NCDEX (National Commodity & Derivatives Exchange Ltd) Guar gum- 5MT closed at Rs 8608, 8718, 8810 higher by 0.34 percent or Rs 29/100Kg, 0.5 percent or Rs 43/100Kg, 1.33 percent or Rs 116/100 Kg with an open interest of 11675, 65050, 980 for January February and March month contracts.

Wednesday, 2 January 2019

ग्वार गम के निर्यात में पिछले साल के मुकाबले 8927 MT की बढ़ोतरी



कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) द्वार जारी आंकड़ों के अनुसार भारत ने अप्रैल 2018 से नवम्बर 2018 तक 330978 MT ग्वार गम का निर्यात कर दिया है । ये आंकड़ा पिछले साल से 8927 MT ज्यादा है । अप्रैल 2018 से नवम्बर 2018 के बीच निर्यात किये गए ग्वार गम की कीमत भारतीय रुपयों में 3052 करोड़ व् अमेरिकी डॉलर में 442 मिलियन है । पिछले साल इसी समय के दौरान भारत ने 322052 MT ग्वार गम का निर्यात किया था । पिछले साल निर्यात किये गए ग्वार गम की कीमत भारतीय रुपयों में 2589 करोड़ रुपए व अमेरिकी डॉलर में 401 मिलियन थी। भारतीय ग्वार गम उद्योग व ग्वार किसानों के लिए यहाँ एक सकारात्मक समाचार है । पिछले चार वर्षों से ग्वार गम का निर्यात लगातार बढ़ता जा रहा है ।


ग्वार गम का निर्यात तेल व गैस के कुओं की खुदाई की नयी गतिविधियों के साथ बढ़ता जा रहा है। शैल कच्चा तेल व गैस का उत्पादन बढ़ रहा है । परम्परागत तौर पर सऊदी अरब कच्चे तेल का व कतार प्राकृत गैस के उत्पादन का अग्रणी देश थे। लेकिन अब संयुक्त राज्य अमेरिका कच्चे तेल व प्राकृत गैस के उत्पादन का नया शीर्ष देश बन गया है । संयुक्त राज्य अमेरिका में कच्चे तेल व प्राकृत गैस के उत्पादन के लिए फ्रेकिंग या हाइड्रोलिक फ्रक्चारिंग तकनीक काम में ली जाती है। ग्वार गम इस तकनीक में एक जैली बनाने वाले रसायन के रूप में काम में आता है। संयुक्त राज्य अमेरिका, नोर्वे, चीन, नीदरलैंड, रूस, इंग्लैंड, जर्मनी, इटली, अर्जेंटीना भारतीय ग्वार गम को आयात करने वाले मुख्य देश है. भारत ने इस साल पिछली साल के मुकाबले भारतीय रुपयों में 17.93% ज्यादा कीमत व अमेरिकी डॉलर में 10.10% ज्यादा कीमत का ग्वार गम निर्यात कर दिया है।

ग्वार गम के निर्यात में पिछले साल के मुकाबले 8927 MT की बढ़ोतरी , Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar futrue demand, guar production 2019, guar gum demand 2019
ग्वार गम के निर्यात में पिछले साल के मुकाबले 8927 MT की बढ़ोतरी 
 अभी तक के पूर्वानुमानों के अनुसार निर्यात होने वाले ग्वार गम की मात्रा 6,00,000 MT के स्तर को पार कर जाएगी। भारतीय ग्वार गम उद्योगग्वार गम के किसानों के लिए यह एक अच्छा संकेत है। इस साल ग्वार फसल का उत्पादन पिछले साल से कम है। बैकर हुज रिग काउंट के आंकड़ों के अनुसार 1083 तेल खुदाई की रिग संयुक्त राज्य अमेरिका में सक्रिय है। जो की पिछली साल के मुकाबले 154 ज्यादा है। सक्रिय रिग काउंट की संख्या तेल की खुदाई की सेवा व रसायनों की मांग का मानक है। 

कमजोर मांग के कारण ग्वारग्वार गम दोनों कमोडिटी के भाव में मंदी बनी हुईं है। स्टॉकिस्ट द्वारा कमजोर खरीददारी व कमजोर मांग के कारण अगले सप्ताह भी भावों में मंदी बनी रहेगी। अच्छी गुणवत्ता वाला ग्वार 4400 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास बिक रहा है। औसत गुणवत्ता वाला ग्वार 4300 रुपये प्रति क्विंटल के भाव में बिक रहा है । बाज़ार में मानक गुणवत्ता वाली ग्वार गम का भाव 8500 रुपये प्रति क्विंटल है । अंदरूनी इलाकों में ग्वार का भाव 4200 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास है । वायदा बाज़ार में ग्वार के कारोबार में कमजोरी देखी जा रही है । एनसीडीईएक्स (नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड) में ग्वार बीज -10 एमटी के अनुबंध का कारोबार क्रमशः जनवरी , फ़रवरी व मार्च माह के लिए 0.24 फीसदी या रूपये 10.5/100 किलो, 0.21 फीसदी या रुपये 9/100 किलो, 0.6 फीसदी या रुपये 26.5/100 किलो मंदी के साथ क्रमशः 4307, 4351, 4389 रुपये प्रति क्विंटल के भाव पर 72000, 73230, 2600 सक्रिय अनुबंध के साथ व्यवसाय चालू ।



वायदा बाज़ार में ग्वार गम के कारोबार में भी मंदी देखी जा रही है । एनसीडीईएक्स (नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड) में ग्वार गम 5 एमटी के अनुबंध का कारोबार क्रमशः जनवरी , फ़रवरी व मार्च माह के लिए 0.57 फीसदी या रूपये 49/100 किलो, 0.51 फीसदी या रुपये 44/100 किलो, 0.61 फीसदी या रुपये 53/100 किलो मंदी के साथ क्रमशः 4307, 4351, 4389 रुपये प्रति क्विंटल के भाव पर 23100, 54380, 405 सक्रिय अनुबंध के साथ व्यवसाय चालू ।

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS