COPY PASTE

Wednesday, 20 February 2019

ग्वार व ग्वार गम के भावों में इस सप्ताह निर्यात की मांग से तेज़ी रहेगी

पिछले सप्ताह ग्वार व ग्वार गम की कीमतों में तेजी दिखाई दी बीएसई ( बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ) पर ग्वार के वायदे सौदे की लिस्टिंग के बाद में पिछले सप्ताह में ग्वार सीड व ग्वार गम की कीमतों मजबूत बनी रही l बाजार के जानकारों के अनुसार यह तेजी निर्यात में वृद्धि होने के कारण हुई है l साथ में पिछले सप्ताह कच्चे तेल की कीमतों में भी काफी वृद्धि हुई है l क्रूड आयल पिछले तीन महीने के उच्चतम स्तर 66.25 डॉलर/ बैरल के उच्चतम स्तर पर पहुँच गे है l कच्चे तेल की कीमतें ग्वार की कीमतों को सीधा प्रभावित करती है l क्योंकि ग्वार का प्रयोग कच्चे तेल और प्राकृत गैस की खुदाई में ड्रिलिंग  केमिकल के रूप में होता है l


बाजार के जानकारों की माने तो बाजार में ग्वार की आवाज बहुत कम रह गई है l अभी गवार की आवक बाजार में और भी कम रहेगी आने वाले दिनों में कमजोर आवक का प्रभाव ग्वार और ग्वार गम की कीमतों में देखने को मिल सकता है l बाजार के जानकारों के अनुसार बीएसई पर लिस्टिंग के बाद में ग्वार के व्यापार में वृद्धि हो रही है l वायदा व्यापार में बीएसई ग्वार के वायदा व्यापार में अपनी हिस्सेदारी धीरे-धीरे बढ़ा रहा है l पिछले सप्ताह ग्वार के कुल वायदा व्यापार का 36 परसेंट मार्केट शेयर बीएसई ने प्राप्त कर दिया है l बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) अपनी तकनीक व कम ट्रांजैक्शन कीमत के कारण अपना वॉल्यूम बढ़ा पा रही है l


एनसीडीईएक्स वायदा व्यापार अगले महीने यानी कि मार्च के सौदे में शिफ्ट हो गया है l मार्च में एनसीडीईएक्स पर ग्वारगम-5 मेट्रिक टन के सौदे के 67,700 ओपन इंटरेस्ट पर काम हो रहा है, वही ग्वार सीड में 10 मेट्रिक टन के वायदा सोदे का कारोबार 1,08,260 ओपन इंटरेस्ट का हो रहा है l थोड़ा बहुत व्यापार अप्रैल के सौदे में भी धीरे धीरे बढ़ रहा है l एनसीडीईएक्स पर ग्वार गम 5 मेट्रिक टन के वायदे का कारोबार मार्च के सौदे में 8426 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर हो रहा है l वन्ही ग्वार सीड 10 MT  मार्च का सौदा 4229 Rs/100 क्ग्भव पर हो  रहा है l 


स्थानीय बाजारों में हाजिर में ग्वार गम ₹8500 प्रति क्विंटल तथा ग्वार ₹4300 प्रति क्विंटल के भाव पर बिक रहा है l ग्वार की आवक स्थानीय बाजार में कम होने के कारण हाजिर बाजार में ग्वार के भाव में मजबूती है l अंतरराष्ट्रीय बाजारों में  कच्चे तेल के उत्पादन घटने के कारण कच्चे तेल के भाव में तेजी है l अगर यह तेजी आगे भी जारी रहती है तो अमेरिका में तेल उत्पादन  की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी जिससे ग्वार गम की मांग पढ़ सकती है l ग्वार गम निर्यात होने वाला एक महत्वपूर्ण कृषि उत्पाद है l प्रतिवर्ष 3,000 से ₹3500 करोड़ भारतीय रुपए की ग्वार गम का निर्यात होता है l निर्यात के आंकड़ों में और भी बढ़ोतरी हो रही है। ग्वार हुआ ग्वार गम की कीमतों में इस सप्ताह भी तेजी रहने की उम्मीद है धीरे धीरे ग्वार की आवक में कमी हो रही है l 

Saturday, 16 February 2019

ग्वार के किसान ग्वार की फसल से लाभ कैसे कमाए ?

ग्वार के किसान ग्वार की उपज से मुनाफा कैसे कमाए ? किसान मेहनत कर के ग्वार की फसल लेता है , अच्छी फसल होने के बाद भी किसान को कई बार मुनाफा नहीं मिलता l इस विडियो में बताया गया है की किसान ग्वार की फसल से अच्छा लाभ कैसे कमाए l ग्वार के किसान ग्वार की फसल को एक नार्मल फसल की तरह लेते है l ग्वार एक औधोगिक फसल है l, ग्वार की खेती व बेचान सावधानी से करना चाहिय l किसान जितना ध्यान रखेंगे उनको उतना ही फायदा होगा l ग्वार की कीमतों में लगातार उतर चढाव होते रहते है l कई बार  किसान को अपनी फसल का उचित दाम नहीं मिलता l 


Friday, 15 February 2019

ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर शुरू.



MCX पर ग्वार का व्यापर बंद होने के 5-6 साल बाद ग्वार सीड व ग्वार गम को वायदा व्यापार के लिए दूसरा प्लेटफार्म मिल गया है, पिछले महीने बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) को SEBI से ग्वार के वायदा व्यापार की मंजूर मिली थी. Sebi ने ग्वार सीड व ग्वार गम के 10 MT के सौदों के ट्रेडिंग की मंजूरी दे दी थी. कल 6 जनवरी को बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) ने इस सौदो के व्यापार की जयपुर में विधिवत रूप से शुरुवात करदी . इस अवसर पर बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के मैनेजिंग डायरेक्टर आशीष कुमार चौहान ने कहा की भारत में कृषि जिंसो का वायदा व्यापार अभी शुरवाती दौर में है इसमे विकाश की अपार संभावना है. बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) इन दोनों सौदों की शुरुवात अभी 10 मीट्रिक टन के लोट साईज से की गयी है BSE पर ये सौदे फ़रवरी से दिसम्बर महिने तक के होंगे. NCDEX के व्यापार का मुख्य हिस्सा ग्वार के वायदा व्यापार से आता है अब बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) अपने एग्री कमोडिटी के व्यापार की शुरुवात ग्वार से ही शुरू कर रहा है ग्वार का 85 % उत्पादन राजस्थान में ही होता है इसी लिए बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) ने अपनी पहली कमोडिटी की लिस्टिंग राजस्थान की राजधानी जयपुर में की हैl 



व्यापार के हिसाब से कल का दिन ग्वार के लिए अच्छा नहीं रहा, बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर वायदा व्यापार की लिस्टिंग के दिन ही वायदा बाज़ार में दोपहर के बाद lower सर्किट लग गए. कल सुबह सुबह बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर वायदा सौदों की लिस्टिंग के पहले काफी उत्साह था लेकिंन लोअर सर्किट लगने के बाद पूरा दिन मायूशी में रहाl. एग्री कमोडिटी का व्यापार हमेशा से ही क्वालिटी व डिलीवरी के कारण विवादों से भरा रहा है . जिससे निवेशकों व किसानो का भरोसा वायदा व्यापार में ज्यादा नहीं है . अगर किसी योजना व प्रबंधन के तहत बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) व्यापारी, निवेशक व किसानो का भरोसा मजबूत करने में सफल होता है तो एग्री कमोडिटी वायदा व्यापार के लिए भविष्य में एक मील का पत्थर साबित होगा. 

ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर शुरू.  Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
ग्वार सीड व ग्वार गम का वायदा व्यापार बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर शुरू. 

ग्वार का नया उत्पादन अब 10 महिने बाद आएगा, तब तक नया उत्पादन बाज़ार में नहीं आएगा. बाज़ार में कीमतों की चाल ग्वार के निर्यात पर निर्भर करेगा. वैसे कुल निर्यात के आंकड़े अभी तक बढ़ कर आ रहे है लेकिन ग्वार गम पाउडर व ग्वार गम स्प्लिट दोनो को मिला करके का निर्यात के आंकड़े ज्यादा आना बहुत जरुरी है, apeda द्वार जारी आंकड़ो के अनुसार नवम्बर महीने तक ग्वार गम पाउडर के निर्यात में कमी देखी गयी है . अगर निर्यात में कमी जारी रहती है तो इस वर्ष ग्वार की कीमतों में विशेष तेज़ी देखने को नहीं मिल्केगी . बाज़ार के जानकारों से प्राप्त जानकारी के अनुसार दिसम्बर जनवरी महीने में ग्वार का निर्यात ज्यादा हुआ है.



Monday, 11 February 2019

ग्वार को रोक कर के रखे या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचकर निकले ?

ग्वार को रोके या फिर बेच कर निकले ?


फ़रवरी महीने के पहले सप्ताह में ग्वार के भावों में भारी गिरावट देखने को मिली है  ग्वार के किसान व व्यापारी भाई बडी दुविधा में है की ग्वार को रोक कर के रखे या फिर और ज्यादा घाटे से बचने के लिए ग्वार को बेच दे  कई किसान भाइयों ने फ़ोन कर के इसके बारे में पूछा भी था । सबसे पहले विश्लेषण करते है, फसल उत्पादन की  इस वर्ष फसल का उत्पादन 70-80 लाख बोरी का है । कम बीजाई, लेट बारिश व असंतुलित बारिश के कारन फसल का उत्पादन इस वर्ष कम ही ले कर चल रहे है । राजस्थान सरकार के जारी आंकड़ो के अनुसार ग्वार का उत्पादन इस वर्ष 1 करोड़, 45 लाख बोरी का था । इसमें 20 लाख बोरी दुसरे प्रदेश की मिला ले तो कुल उत्पादन 1 करोड़ 60 लाख के करीब पहुँच जाता है । इस तरह दोनों आकड़ों में लगभग 80-90 लाख बोरी का अंतर आ रहा है । सरकारी आंकड़े में ग्वार की बिजाई के आंकड़े बढ़ कर ही आते है । पिछले साल के आंकड़ों में ज्यादा तर देखा गया है कि दूसरी फसलों के आंकड़ें पुरे होने के बाद जो जमीन बच जाती है वो ग्वार के नाम लिख देते है ।


ग्वार बाज़ार में घटती आवक पर भाव क्यों टूटे 


अगर वास्तव में ग्वार उत्पादन ज्यादा होता तो कटाई के बाद मुख्य आवक के समय नवम्बर दिसम्बर में ही ग्वार के भाव टूट जाते । नवम्बर दिसम्बर के महिने में ग्वार की मुख्य आवक रहती है, लेकिन इसके विपरीत इस वर्ष ग्वार के भावों में मुख्य आवक के समय तेज़ी देखने को मिले थी । अगर ग्वार की आवक ज्यादा होती तो, ग्वार के भाव उस समय घटाकर बोले जाते । लेकिन ग्वार के भाव मुख्य आवक कम होने के बाद फ़रवरी में टूट रहे है । कही न कही छोटे व्यापारी व किसानो पर कम कीमतों का दबाब बना कर रोके हुए ग्वार को बाहर निकालने की कोशिश प्रतीत होती है ।

ग्वार को रोक कर के रखे  या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचे  ? , Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
ग्वार को रोक कर के रखे  या फिर नुक्सान से बचने के लिए बेचे  ? 
ग्वार के कुल निर्यात के आंकड़ों में भी अभी तक किसी तरह की कमी नहीं दिखाई दे रही है । दूसरी और प्रति मीट्रिक टन ग्वार के निर्यात के भाव भी बढ़ कर आ रहे है । वर्ष 2017-18 में ग्वार गम का निर्यात 1253 डॉलर प्रति टन के भाव पर हुआ था । वर्ष 2018-19 में यही ग्वार गम 1327 डॉलर प्रति टन के भाव पर निर्यात किया गया था यानि की 74 डॉलर प्रति टन के अधिक भाव पर निर्यात हो रह है । अभी जनवरी, फ़रवरी मार्च तीन महिने के आंकड़े आने बाकी है । इसका मतलब मांग व मंदी वाली कोई बात नजर नहीं आरही । भारतीय रुपयों में देखे तो कुल निर्यात की कीमत में 16 % प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई हैl मांग है तभी हो आयत करने वाले बढ़ा कर पैसे दे रहे है ।


5000 प्रति/क्विंटल से ऊपर के ग्वार के भाव नहीं सोचे 


अभी ग्वार के बाज़ार भावों के ज्यादा दबाब में आने की जरुरत नहीं है। क्योंकि नया माल 10 महिने बाद आयेगा। छोटे किसानो के पास ज्यादा माल रोकने की क्षमता नहीं होती, उनका माल बाज़ार में आ चुका है । अब बाज़ार में स्टॉकिस्ट व बड़े किसानो का माल फैक्ट्री में सप्लाई होगा । स्टॉकिस्ट का माल तेज भावों में स्टॉक किया हुआ है । स्टॉकिस्ट घाटा खा कर के फैक्ट्री को माल नहीं सप्लाई करेगा । ग्वार गम की फैक्ट्रीयों में तो माल लगेगा ही लगेगा । डिमांड अभी अच्छी बनी हुयी है । 4700-4900 के भाव के इंतज़ार में किसान रोका सकता । बाकी इस साल 5000 प्रति/क्विंटल से ऊपर की सोच, मन में नहीं रखे । फ़िलहाल स्थानीय बाज़ारों में ग्वार की आवक कम ही है । आगे रबी की फसल आने के बाद हरीफ की फसल की आवक एक दूँम कम होजाएगी ।

Wednesday, 6 February 2019

अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात

इस सप्ताह कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) ने कृषि उत्पादों के निर्यात के आरंभिक आंकड़े जारी किये । इन आंकड़ों के अनुसार भारत ने अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 3,72,816 MT ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात किया है । जो की पिछले साल अप्रैल 2017 से दिसम्बर 2017 के निर्यात से 7332 MT ज्यादा है । अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 के बीच निर्यात किये गए ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों की कीमत 3437 करोड़ भारतीय रुपयों या 492 मिलियन अमेरिकी डॉलर है । पिछले साल इसी समय के दौरान भारत ने 365487 MT ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात किया था । पिछले साल निर्यात किये गए ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों की कीमत 2951 करोड़ भारतीय रुपए या 458 मिलियन अमेरिकी डॉलर थी । भारतीय ग्वार गम प्रोसेसिंग उद्योग व ग्वार किसानों के लिए यह एक अच्छा व सकारात्मक समाचार है । पिछले चार वर्षों से ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात प्रतिवर्ष बढ़ता जा रहा है। यहाँ पर ध्यान देने लायक बात यह है कि इन आंकड़ों में ग्वार गम, ग्वार चुरी, ग्वार स्पलिट, ग्वार ग्वार कोरमा सभी का निर्यात शामिल है । विस्तृत आंकड़े जारी होने के बाद विस्तार से विश्लेषण करेंगे । 


ग्वार गम व दुसरे ग्वार उत्पादों का निर्यात तेल व प्राकृत गैस के कुओं की खुदाई की नयी गतिविधियों तथा पशु आहार प्रोटीन की मांग के साथ बढ़ता जा रहा है । विश्व में कच्चा तेल व गैस का उत्पादन अपने उच्चतम स्तर पर है । कच्चे तेल उत्पादक देश जैसे इराक, सीरिया, लीबिया, इरान, वेनिजुयेला में राजनैतिक उथल पुथल के कारण कच्चे तेल की सप्लाई कम हो गयीए है । अमेरिका व अन्य सहयोगी देशो में कच्चे तेल व प्राकृत गैस की खुदाई का कार्य प्रगति पर है ।

अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात , Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
अप्रैल 2018 से दिसम्बर 2018 तक 372816 MT ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों का निर्यात 
सोयाबीन उत्पादक देशो से सोयाबीन उत्पादन के संभावित कम उत्पादन से ग्वार चुरी कोरमा की एक्सपोर्ट की डिमांड बहुत ज्यादा है । कम उत्पादन की सम्भावना के कारन भारतीय सोयाबीन बाज़ार में भी तेज़ी चल रही है । 2 फ़रवरी को जारी बैकर हुज रिग काउंट के आंकड़ों के अनुसार 1045 तेल खुदाई की रिग संयुक्त राज्य अमेरिका में सक्रिय है । जो की पिछली साल के मुकाबले 99 ज्यादा है । बैकर हुज सक्रिय रिग काउंट की संख्या तेल की खुदाई की सेवा व रसायनों की मांग का मानक है । बैकर हुज रिग काउंट के आंकड़े हर सप्ताह जारी करता है ।


सुस्त व्यापारिक गतिविधियों के कारण स्थानीय मंडियों व वायदा बाज़ार में ग्वारग्वार गम दोनों कमोडिटी के के भाव में मंदी बनी हुईं है। अच्छी क्वालिटी का ग्वार 4300 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास बिक रहा है । औसत गुणवत्ता वाला ग्वार 4200 रुपये प्रति क्विंटल के भाव में बिक रहा है । बाज़ार में मानक गुणवत्ता वाली ग्वार गम दाल का भाव 8500 रुपये प्रति क्विंटल है । अंदरूनी इलाकों में ग्वार का भाव 4100 रुपये प्रति क्विंटल के आस पास है । वायदा बाज़ार में ग्वार के कारोबार में कमजोरी देखी जा रही है ।  एनसीडीईएक्स (नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड) में ग्वार बीज -10 एमटी ग्वार गम के अनुबंध का व्यवसाय 3% के लोअर सर्किट के बाद बाद बंद है 

Tuesday, 5 February 2019

ग्वार पर ग्वार के एक्सक्लूसिव youtube ( यूट्यूब ) चैनल / Exclusive Youtube Channel on Guar Gum.


ग्वार के एक्सक्लूसिव youtube ( यूट्यूब ) चैनल पर देखिये ग्वार के ताज़ा बाज़ार भाव व आगे की चाल पर नया विडियो. Please view our video about current Guar price and Future movement, guar exclusive Youtube Channel on Guar Gum.



Sunday, 3 February 2019

क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है ?

फ़रवरी महीने की शुरु वात ग्वार गम व ग्वार के भावों में मंदी के साथ शुरू हुई है । ग्वार के भाव 4300 रुपये प्रति क्विंटल से टूट कर 4200/क्विंटल के आस पास आ गये । घटती हुई आवक के साथ भावों में मंदी से किसानों व निवेशकों में निराशा है। पिछले तीन चार साल से ग्वार के भावों में 5% -10% बढ़ोतरी प्रतिवर्ष हो रही है । लेकिन ग्वार के सुस्त भावों के कारण ग्वार की खेती का क्षेत्रफल सिकुड़ता जा रहा है, जिससे की ग्वार के उत्पादन में भी कमी हो रही है । किसान व्यापारी कम उत्पादन के संभावना के कारण ग्वार को पिछले 3-4 साल से अपने-अपने हिसाब कम या ज्यादा मात्र में रोक कर के रखे रखे हुए है। नए ग्वार की आवक बाज़ार में धीर धीर रही है। उसके बावजूद भी ग्वार के भावों में मंदी या सुस्ती छाई हुई है। घटते दामों पर भी निर्यात के अनुसार बाज़ार में ग्वार की उपलब्धता बनी हुई है । कम उत्पादन के बावजूद क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का पुराना ग्वार बाज़ार में आ रहा है ?



अक्टूबर के आखिर में ग्वार की नई उपज की आवक बाज़ार में शुरू होती है । इस वर्ष दिसम्बर महीने में ग्वार के भाव में ग्वार की आवक के साथ तेज़ हुए थे । लेकिन उसके बाद ग्वार के भावों में सुस्ती आने लग गयी । किसान व स्टॉकिस्ट 30,000 के भावों के इंतज़ार में अभी भी है । लेकिन बाज़ार में ग्वार व ग्वार गम के भावों की चाल देख कर इतनी तेज़ी अभी नहीं लग रही है । बाज़ार को ग्वार गम के निर्यात के नए आंकड़ों के आने की उम्मीद इस महीने है । अभी तक बाज़ार में नवम्बर महीने तक के ग्वार गम के निर्यात के आकडे उपलब्ध है।

क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है, Guar gum production, guar gum export and current price trend, guar, guar gum,  κόμμι γκουάρ Guargummi 瓜爾豆膠, Гуаровая камедь, Гуаровая камедь (гуаровая семян) культивирование консультирование в России, Кизельгура (Cyamopsis tetragonoloba) консультации по выращивание семян в России, Смоли іонообмінні (відповідно насіння) вирощування консультування в Україні, מסטיק Guar (Guar הזרע) ייעוץ הטיפוח בישראל, الاستشارات زراعة Guar اللثة (Guar البذور), صمغ گوار (دانه گوار) کشت مشاوره ايران, ग्वार, ग्वार आज के भाव, ग्वार के भाव, ग्वार गम, ग्वार गम का निर्यात, ग्वार गम का उत्पादन, ग्वार भाव, ग्वार रेट, 瓜尔豆胶 (瓜尔豆种子) 栽培顾问在中国   Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019.
क्या 30,000 प्रति क्विंटल की तेज़ी का ग्वार बाज़ार में आ रहा है ।
पिछले 2-3 महीने में अमेरिका में कच्चे तेल के दाम बढे है । विश्व में कच्चे तेल का उत्पादन बढ रहा । 28 जनवरी तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार कच्चे तेल का उत्पादन 84.4 मिलियन बैरल प्रति दिन है । कच्चे तेल का यह उत्पादन अपने अभी तक के उच्चतम स्तर पर है । वैश्विक राजनीति में तेल उत्पादक देश वेनेजुएला के संकट के कारण अमेरिका अपने कच्चे तेल का उत्पादन और भी बढ़ायेगा ।



फ़रवरी महीने में ग्वार व ग्वार गम का वायदा व्यापार बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर शुरू होने जा रहा है । बाज़ार के विश्लेषकों के अनुसार इससे ग्वार व ग्वार गम के वायदा व्यापार में पारदर्शिता बढ़ेगी । ग्वार के भावों की जानकारी का अन्य महत्वपूर्ण श्रोत खुल जायेगा तथा NCDEX पर ग्वार के वायदा व्यापार की निर्भरता कम होगी । अपुष्ट श्रोत से प्राप्त जानकारी के अनुसार BSE पर ग्वार के वायदा व्यापार की लिस्टिंग 6 फ़रवरी 2019 को जयपुर में होने जा रही है । ग्वार भारत की महत्वपूर्ण निर्यात आधारित औद्योगिक फसल है । अनुमान के मुताबिक बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर लिस्टिंग के बाद ग्वार के भावों में तेज़ी आएगी क्योंकि बाजार में ग्वार का स्टॉक व डिलीवरी की लोकेशन बढ़ेगी। ग्वार के व्यापार की ट्रांजेक्सन बढ़ेगी। बीएसई (बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज) पर लिस्टिंग के बाद ग्वार पर निवेशकों का भरोसा बढेगा तथा ज्यादा निवेशक ग्वार की और आकर्षित होंगे । सटोरियों की गतिविधि दो-दो वायदा बाज़ार पर एक साथ नहीं हो सकती।

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS