ग्वार व ग्वार गम भावों को क्रूड आयल की तेज़ी की सपोर्ट

ग्वार में कमजोर आवक व फेक्ट्रियों की लिवाली के कारण तेज़ी बनी हुयी है । पिछले दो दिनों के बढे हुए ग्वारग्वार गम के भावों में आज भी स्थिरता बनी रही । स्थानीय बाज़ारों में ग्वार की आवक 17000 -18000 बोरी प्रतिदिन की बनी हुयी है । ग्वार गम पाउडर बनाने वाली इकाईयां ग्वारग्वार गम दोनों खरीद रही है । कम उत्पादन को देखते अगर ये मौका निकल गया तो ग्वार गम पाउडर निर्यात करने के लिए ग्वार ऊँचें दामों पर खरीदना पड़ेगा  

भारत से ग्वार, ग्वार गम स्प्लिट, ग्वार गम पाउडर, ग्वार चुरी, ग्वार कोरमा के रूप में एक्सपोर्ट होता है । ये बासमती चावल के बाद एक्सपोर्ट होने वाला दूसरा सबसे बड़ा कृषि उत्पाद है । ग्वार गम स्प्लिट को चीन व यूरोपीय देशों में फिर से प्रोसेसिंग कर के विश्व के अन्य देशों में एक्सपोर्ट किया जाता है । ग्वार गम पाउडर विश्व के कई देशों में औद्योगिक उपयोग के लिए एक्सपोर्ट किया जाता है । तेल व प्राकृत गैस के अलावा ग्वार गम पाउडर भारी मात्र में फ़ूड, फार्मा, टेक्सटाइल, प्रिंटिंग, पेपर उद्योग में काम में लिया जाता है ।




जनवरी 2017 से नवम्बर -2017 तक भारत ने 2588.34 करोड़ रूपया का 3,21,570 MT ग्वार एक्सपोर्ट कर दिया है । इस साल के नवम्बर तक का एक्सपोर्ट पिछले साल नवम्बर तक से 40% से ज्यादा एक्सपोर्ट हुआ है । अन्तराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों का सीधा असर ग्वार के भावों पर निर्भर करता है ।

today guar price, ncdex guar price, guar gum news, guar price, guar gum price, guar, guar gum cultivation in india, goma de guar
Guar Gum Farming Guar gum cultivation
बाज़ार के जानकारों के मुताबिक अभी के हालत में ग्वार के लिए रुपये 5000/ क्विंटल के स्तर को पार करना मुश्लिल होगा । लेकिन क्रूड आयल की कीमतों में उछाल ज्यादा आता है तो ग्वार का भाव 5000 का स्तर ज्यादा नहीं है । क्रूड आयल कीमते अभी 70 डॉलर / बैरल पर चल रही है । जो की अपने 3 साल के उच्चतम स्तर के ऊपर है । पारम्परिक तेल उत्पाद ओपेक देश व रूस अपने तेल उत्पादन में मार्च 2018 तक कटोती करने का फैसला लिया है । अमेरिका में बढे हुयी तेल की कीमते एक मजबूत अर्थव्यवस्था व व्यावसायिक गतिविधियों में तेज़ी का संकेत है ।





बाज़ार के जानकारों के मुताबिक, ग्वार के भावों में तेज़ी से ज्यादा स्थिरता की आवश्यकता है। अगर  बाज़ार के कारको का साथ मिलाता रहा था तो इसा साल ग्वार किसानों व व्यापारियों को अच्छा मुनाफा दे कर के जायेगा। अभी के ग्वार के भावों में 400-500 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की जगह है  

No comments:

Post a Comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS