COPY PASTE

Friday, 22 March 2019

ग्वार के भाव में कमजोर मानसून के अनुमान से कितने तेज़ी आएगी ?

ग्वार की कीमतें, ग्वार के उत्पादन के आंकड़ों ने बाद में मानसून के आगमन से सबसे ज्यादा प्रभावित होती है l अन्तराष्ट्रीय मोसम एजेंसियों के पूर्वानुमान के हिसाब से भारत में जून से शुरु होने वाला मॉनसून सीजन इस बार पिछड़ सकता है। फरवरी तक अच्छी बारिश की उम्मीद के बाद अब फिर से दुनिया भर की मौसम एजेंसियों ने मॉनसून की चाल को लेकर आशंका जतानी शुरू कर दी है। अन्तराष्ट्रीय मौषम एजेंसियों ने फिर से अलनीनों के मजबूत होने का अनुमान जताया है। मानसून की मुख्य आवक के समय जून-अगस्त के दौरान अलनीनो के असर की आशंका है । ऑस्ट्रेलिया के मौसम विभाग को 70 फीसदी अलनीनो का अनुमान है। वहीं, अमेरिकी मौसम एजेंसी को 60 फीसदी तक अलनीनो का अनुमान है। भारतीय एजेंसी स्काईमेट ने भी मॉनसून पर अनुमान बदला है।


इसी बीच मार्च के महीने में ग्वार व ग्वार गम की कीमतों में तेजी आई है L इनका दाम पिछले करीब 1.5 महीने के ऊपरी स्तर पर चला गया हैं। ग्वार गम में भी बढ़ते भावों पर कारोबार हो रहा है। सिर्फ 10 दिनों के कारोबार में इसका दाम करीब 5 फीसदी उछल गया है । अभी फरवरी के ग्वार गम व अन्य ग्वार उत्पादों के निर्यात के आंकड़े जारी नहीं हुए है । बाज़ार के जानकारों के अनुसार फ़रवरी व मार्च महीने में निर्यात पिछले महीनों की तुलना में बढ़ कर के हुआ है. 


अन्तराष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल के दामों में तेज़ी जारी है । कच्चे तेल की कीमतें पिछले तीन महीने के उच्चतम स्तर पर है तथा कीमतों में उछाल पिछले तीन महीनो से जारी है । बढ़ते अन्तराष्ट्रीय राजनैतिक तनाव के मध्य नजर कच्चे तेल की कीमतों में उछाल आगे भी जारी रहने की उम्मीद है । कच्चे तेल की कीमते जितना ज्यादा ऊपर जाएगी विश्व में कच्चे तेल के कुओं की खुदाई उतनी ही बढ़ेगी तथा ग्वार गम की अन्तराष्ट्रीय मांग भी उतनी ही बढ़ेगी। उधर बैकर हुज के रिग काउंट के आंकड़े भी बढ़ कर आ रहे है । 15 मार्च 2019 तक जारी आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में इस समय 1026 आयल रिग सक्रिय है जो की पिछले वर्ष से 36 ज्यादा है ।


इस सप्ताह NCDEX पर ग्वार के भाव 19 अप्रैल के सौदे के लिए 4402 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 29 मार्च के सौदे के लिए ग्वार के भाव 4414 रूपए प्रति क्विंटल, NCDEX पर स्पॉट के भाव 4300 रूपए प्रति क्विटल l इसी तरह NCDEX पर ग्वार गम के भाव 19 अप्रैल के सौदे के लिए 8912 रूपए प्रति क्विंटल, BSE पर 29 मार्च के सौदे के लिए ग्वार गम के भाव 8737 रूपए प्रति क्विंटल तथा NCDEX पर ग्वार गम के स्पॉट के भाव 8708 रूपए प्रति क्विटल के आस पास चल रहे है l स्थानीय मंडियों में ग्वार के भाव 4400 रूपए प्रति क्विटल व ग्वार गम के भाव 8900 रूपए प्रति क्विंटल के आस पास चल रहे है l

ग्वार गम के अलग अलग रासायनिक व भौतिक गुणों के कारण इसका प्रयोग अन्य उद्योगों में भी धीरे धीरे बढ़ रहा है। पारम्परिक तौर पर ग्वार गम की मुख्य मांग कच्चे तेल व गैस उद्योग से आती है । ग्वार गम के निर्यात का उद्योग अच्छी तरह स्थपित हो चूका है। पिछले 2-3 सालों से ग्वार चुरी-कोरमा के निर्यात का व्यवसाय भी धीरे धीरे स्थापित हो रहा है ।

ज्यादा जानकारी के YOUTUBE के चैनल को सब्सक्राइब करे, ताकि ग्वार पर ताज़ा अपडेट के नए YOUTUBE विडियो आपको समय पर मिलते रहे l


कमजोर मानसून के अनुमान से ग्वार के भाव में कितने तेज़ी आएगी ?

पहले ग्वार के दाने का मात्र 28-30 % हिस्सा ही ग्वार गम के रूप निर्यात होता था, आज ग्वार के दाने का 100 % हिस्सा निर्यात हो रहा है । जो की ग्वार उद्योग के लिए एक अच्छा संकेत है । आज भारत में ग्वार व ग्वार गम उद्योग का वार्षिक व्यवसाय 8000 करोड़ रूपए से अधिक का है । जो की लाखो किसानों व मजदूरों को आय व रोजगार प्रद्दन कर रहा है । इसके साथ ग्वार उद्योग सालाना 3500 करोड़ की विदेशी मुद्रा का एक स्थाई श्रोत बन गया है ।

No comments:

Post a comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS