COPY PASTE

Thursday, 17 January 2019

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ?

पिछले 3-4 साल से ग्वार के भाव 5000 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से ऊपर नहीं जा रहे l किसान व्यापारी, स्टॉकिस्ट सभी बड़ी तेज़ी का इंतज़ार कर रहे है सभी के पास में एक ही सवाल है की क्या ग्वार व गवारा गम के भाव में फिर बड़ी तेज़ी दिखेगी ? अभी तक ग्वार के भाव 4000-5000 प्रति क्विटल के दायरे में ही चल रह है l वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए ग्वार के भाव इस सीमित दायरे से ऊपर की तरफ बाहर निकलता दिखाई दे रहा है l वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ो के अनुसार इस वर्ष (2018-19) अप्रैल से नवम्बर तक 1,83,046 मैट्रिक टन ग्वार गम पाउडर व 46,532 मैट्रिक टन साफ़ की हुयी ग्वार गम सप्लीट का निर्यात किया जा चूका है । दोनों को मिला कर के कुल 2,29,578 मैट्रिक टन ग्वार गम का निर्यात हो चुका है । पिछले वर्ष ( 2017-18 ) के दौरान 3,21,923 मैट्रिक टन ग्वार गम पाउडर व 41,177 मैट्रिक टन ग्वार गम सप्लीट का निर्यात हुआ था । कुल मिलाक कर पिछले वर्ष 3,66,663 मैट्रिक टन ग्वार गम का निर्यात हुआ था ।


प्राप्त आंकड़ो के हिसाब से पिछले वर्ष पुरे साल में 1,34,00,000-1,40,00,000 बोरी ग्वार की प्रोसेसिंग से प्राप्त ग्वार गम का निर्यात हो चुका था । इस वर्ष नवम्बर महीने तक लगभग 85,02,880 - 90,00,00 बोरी ग्वार से प्राप्त गार गम का निर्यात हो चूका है । बाज़ार से प्राप्त आंकड़ो के अनुसार इस वर्ष ग्वार का उत्पादन 80,00,000 बोरी का था । कृषि विभाग के आंकड़े के अनुसार भी उत्पादन 1 करोड बोरी के आस पास ही रहने की उम्मीद है । मांग व उत्पादन में असंतुलन साफ़ साफ़ अंतर दिखाई दे रहा है । इन आंकड़ो के अलावा 4-5 महिने बाद ग्वार की बीजाई होगी । उसमें भी ग्वार की काफी मात्र लगेगी । ग्वार की स्थानीय खपत की मांग भी रहती है । कुछ हिस्सा ग्वार का स्टॉक में हमेशा रहता है । इस साल 1.5 से 2 करोड़ बोरी के आस पास खपत रहेगी । 

क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ?, Guar, guar gum, guar price, guar gum price, guar demand, guar gum demand, guar seed production, guar seed stock, guar seed consumption, guar gum cultivation, guar gum cultivation in india, Guar gum farming, guar gum export from india , guar seed export, guar gum export, guar gum farming, guar gum cultivation consultancy, today guar price, today guar gum price, ग्वार, ग्वार गम, ग्वार मांग, ग्वार गम निर्यात 2018-2019, ग्वार गम निर्यात -2019, ग्वार उत्पादन, ग्वार कीमत, ग्वार गम मांग, Guar Gum, Guar seed, guar , guar gum, guar gum export from india, guar gum export to USA, guar demand USA, guar future price, guar future demand, guar production 2019, guar gum demand 2019, guar, guar gum, cluster beans, guar gum powder, guar gum price, guar gum uses, ncdex guar, guar price, guar gum price today, cyamopsis tetragonoloba, ncdex guar gum price, guar beans, guar rate today
क्या ग्वार व ग्वार गम के भाव में फिर दिखेगी बड़ी तेज़ी ? 
अगर अमेरिका में शैल क्रूड आयल का उत्पादन बढ़ता है तो ग्वार गम के निर्यात में और तेज़ी आएगी । मांग व उत्पादन में असंतुलन, ग्वार के भावों को ऊपर की और ले जा सकता है । ग्वार की मुख्य मांग अमेरिका के तेल व अमेरिका के तेल व गैस .उद्योग से आती है । अमेरिका में फ्रेकिंग तकनीकी से कच्चे तेल का उत्पादन होता है । फ्रेकिंग तकनीक में ग्वार गम का उपयोग होता है । अन्त राष्ट्रीय बाजारों में अगर कच्चे तेल के दाम बढ़ते है तो ग्वार गम की मांग में निश्चित ही बढ़ोतरी होगी । लेकिन अभी की मांग व उत्पादन को ध्यान में रखते हुए 2012 में ग्वार के भावों में हुई उथल पुथल के दुहराने की उम्मीद कम ही है ।


ग्वार एक औद्योगिक मांग वाली कृषि कमोडिटी है। जिसका सीधे खाने में प्रयोग नहीं होता है । अचानक मांग बढ़ने से भावों में असर देखने को मिल सकता है । बाकि अगर भावों को देखे तो इस वर्ष ग्वार के भाव 4000/क्विटल से नीचे नहीं गए है । बाज़ार में चुरी कोरमे की मांग व भाव भी अच्छे है । कोरमे के भाव 3000 रुपये प्रति क्विंटल से ऊपर चल रहे है । जबकि वर्ष 2012 में कोरमे के भाव इतने ऊँचे नहीं थे । ग्वार चुरी कोरमे का प्रयोग सोया प्रोटीन की जगह पशुओं को प्रोटीन की आपूर्ति रूप में देने के काम आता है । ग्वार के भावों में फसल की आवक से ही पिछले वर्ष से ज्यादा तेज़ी है । वर्ष 2017-18 में ग्वार चुरी कोरमे का निर्यात 1,27,437 मीट्रिक टन हुआ था इस वर्ष 2018-19 में ग्वार चुरी कोरमे का निर्यात 1,01,395 मीट्रिक टन हो चूका है । नया ग्वार लगभग 10 महीने बाद आएगा । अगले दस महीने तक मौजूद उत्पादन से काम चलाना पड़ेगा। 

अगले दस महीने के अन्तराल को देखते हुए किसान व व्यापारियों को ग्वार को एक साथ में निकालना / बेचना नहीं चाहिए । मांग व आवक के ऊपर नीचे होने से भावों में तेज़ी मंदी होती रहेगी । प्राप्त आंकड़ो को देखते हुए हुए ग्वार अभी भी एक मजबूत स्थिति में है। बाकि बाज़ार की चाल पर निर्भर करेगा । NCDEX में ग्वार 10 MT के 1,31,000 चालू सौदे है जिसका मतलब NCDEX में 1.31 करोड बोरी (प्रति बोरी 1 क्विंटल) का व्यापार अभी चल रहा है ।

No comments:

Post a comment

MATCHED CONTENT / SIMILAR NEWS